साड़ी एवरग्रीन परिधान : बसन्त सिंह बग्गा

Raebareli Uttar Pradesh

धैर्य शुक्ला

रायबरेली। साड़ी एक एथनिक परिधान के रूप में जाना जाता है। साड़ी एक ऐसा परिधान है जो एवरग्रीन है। डिजाइनर साड़ी महिलाओं की पहली पसन्द होती है। साड़ी को सात्विक वस्त्र माना जाता है, जिससे एक नारी सदाचारी और धर्मनिष्ठ रहती है। धार्मिक होने की वजह से उसके अन्दर भक्तिभाव उत्पन्न होता है। शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रखने में भी साड़ी की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। उक्त उद्गार उ0प्र0 उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के प्रान्तीय उपाध्यक्ष बसन्त सिंह बग्गा ने लालगंज स्थित सुपर साड़ी शोरूम का उद्घाटन करते हुए कही। श्री बग्गा ने कहा कि लालगंज क्षेत्र में साड़ी का कोई शोरूम न होने के कारण महिलाओं का दूसरे शहर जाकर खरीददारी करनी पड़ती थी, किन्तु सुपर साड़ी शोरूम खुलने से अब एक ही छत के नीचे उन्हें सारा सामान मिलेगा। प्रतिष्ठान के स्वामी द्वारा प्रान्तीय संगठन मन्त्री मुकेश रस्तोगी, युवा जिलाध्यक्ष सत्यांशु दुबे एवं नगर महामंत्री अतुल श्रीवास्तव को अंगवस्त्र पहनाकर सम्मानित किया।
इस अवसर पर मुख्य रूप से लालगंज अध्यक्ष रोहित सोनी, लालगंज प्रभारी विवेक शर्मा, अप्पू शर्मा, हंसराज विश्वकर्मा, अनिल सोनी, दीपक भदौरिया, प्रतीक शर्मा, दीपक अवस्थी, राहुल भदौरिया, अमित गुप्ता, मदन विश्वकर्मा, शिवम गुप्ता आदि लोग उपस्थित रहे।


Total Page Visits: 10 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *