अब हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर भी मिलेगी अंतरा की सुविधा

Uttar Pradesh बुलन्दशहर
  • जनपद के 97 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर मिलेंगे परिवार नियोजन के साधन
  • हर शुक्रवार को जनपद के स्वास्थ्य केंद्रों पर मनाया जा रहा अंतराल दिवस

बुलंदशहर। गर्भनिरोधक इंजेक्शन अंतरा व छाया टेबलेट ने महिलाओं के बीच खास जगह बनाई है। अनचाहे गर्भ को रोकने में कारगर इस इंजेक्शन और टेबलेट लेने वाली लाभार्थी महिलाओं की संख्या भी बढ़ी है। अभी तक इन दोनों साधनों की उपलब्धता प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों तक ही सीमित थी, लेकिन अब इसका दायरा जिले के सभी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर तक बढ़ा दिया गया है, ताकि ज्यादा से ज्यादा महिलाएं इन दोनों को अपनाएं। लाभार्थी महिलाओं का अंतरा केयर लाइन में पंजीकरण होगा, जहां से समय-समय पर उनकी काउंसिलिंग भी होती रहेगी। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (एसीएमओ) डॉ. रोहताश यादव ने बताया ग्रामीण इलाकों की महिलाएं अपने निकटवर्ती हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर जाकर इंजेक्शन लगवा सकती हैं।
डा. यादव ने बताया परिवार नियोजन कार्यक्रम को अधिक से अधिक प्रभावी बनाने के लिए जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, उप केंद्र और जिला अस्पताल में हर शुक्रवार को अंतराल दिवस मनाया जाता है। अंतरा इंजेक्शन अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए सुरक्षित व स्थायी गर्भनिरोधक विकल्पों में से एक है। 1 अप्रैल 2020 से अब तक करीब 755 से अधिक महिलाएं अंतरा इंजेक्शन लगवा चुकी हैं। जबकि 3842 महिलाओं ने छाया गोली का सेवन किया। जिले में 97 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर अंतरा व छाया उपलब्ध है।

तीन महीने में एक बार लगता है अंतरा इंजेक्शन
परिवार नियोजन विशेषज्ञ ने बताया अंतरा इंजेक्शन अनचाहे गर्भधारण से बचने के लिए तीन महीने में एक बार लगाया जाता है। इसको लगाने से पहले यह जानना जरूरी है कि कहीं महिला पहले से तो गर्भवती नहीं है। उनके मुताबिक अंतरा इंजेक्शन का करीब चार महीने तक असर रहता है। इसके लगाने से महिला को किसी प्रकार का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है।

Total Page Visits: 23 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *