Monday, March 4, 2024
Homeउत्तर प्रदेशरायबरेलीकेंद्रीय विद्यालय शिवगढ़ का पी.एम.श्री विद्यालय योजना के तहत हुआ चयन

केंद्रीय विद्यालय शिवगढ़ का पी.एम.श्री विद्यालय योजना के तहत हुआ चयन

  • छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों द्वारा चलाया जा रहा जागरूकता अभियान
  • प्राचार्य मनोज कुमार ने प्रेस वार्ता के माध्यम से दी जानकारी

शिवगढ़,रायबरेली। केंद्रीय विद्यालय शिवगढ़ का पी.एम.श्री विद्यालय योजना के तहत चयन होने से क्षेत्र में खुशी की लहर दौड़ गई है। गौरतलब हो कि पीएम श्री स्कूल योजना भारत सरकार द्वारा एक केंद्र प्रायोजित योजना है। जिसका पहला उद्देश्य केवीएस और एनवीएस सहित केंद्र सरकार,राज्य सरकार,केंद्र शासित,स्थानीय निकायों द्वारा प्रबंधित 14500 से अधिक पीएम एसएचआरआई स्कूलों को विकसित करना है, जहां प्रत्येक छात्र का स्वागत और अच्छे से देखभाल की जाती है। जहां एक सुरक्षित और प्रेरक सीखने का माहौल है,जहां एक व्यापक सीखने के अनुभवों की श्रृंखला की पेशकश की जाती है, और जहां सभी छात्रों के लिए सीखने के लिए अनुकूल अच्छा भौतिक बुनियादी ढांचा और उपयुक्त संसाधन उपलब्ध हैं।

2022 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रत्येक ब्लाक में माडल विद्यालय विकसित करने के लिए पी.एम.श्री स्कूल योजना की शुरुआत की थी। जिसके अन्तर्गत शिवगढ़ में 2 परिषदीय विद्यालयों सहित केंद्रीय विद्यालय का चयन हुआ है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की परिकल्पना के अनुसार क्षमतापूर्ण,समावेशी और बहुलवादी समाज के निर्माण के अनुरूप शिक्षा की कार्ययोजना तैयार की गयी है। सत्र 2022-23 से 2026-27 तक आगामी 5 वर्षों की अवधि के लिए लागू की जा रही है। शुक्रवार को केन्द्रीय विद्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में प्राचार्य मनोज कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि इस योजना के क्रियान्वयन के लिए विद्यालय के छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों द्वारा लोगों को जागरुक किया जा रहा है। जिसको लेकर छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों द्वारा रैली निकाली गयी तथा प्रश्नोत्तरी, कविता, संभाषण, वॉल पेंटिंग, कहानी कथन, रंगोली सहित प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया।

इन प्रतियोगिताओं की थीम लोक कला एवं संस्कृति पर आधारित थी। इसके अतिरिक्त शिक्षकों के लिए आई.सी.टी.आधारित कार्यशाला का आयोजन किया गया। कम्प्यूटर विज्ञान शिक्षक जयनारायण यादव ने शिक्षण अधिगम सामाग्री, शिक्षण संसाधन सामाग्री के निर्माण की बारीकियों को शिक्षकों के साथ साझा किया। छात्रों में विज्ञान के प्रति अभिरुचि पैदा करने एवं वैज्ञानिक सोच को बढ़ावा देने के लिए विज्ञान मेला, शैक्षणिक खिलौने और खिलौना आधारित पेडागॉगी की प्रदर्शनी लगाई गयी। प्राचार्य मनोज कुमार ने बताया कि नई शिक्षा नीति के अनुपालन की प्रक्रिया में कार्यानुभव शिक्षक महेश कुमार शुक्ल के नेतृत्व में वोकेशनल कार्यक्रम द्वारा छात्र-छात्राओं की क्षमता विकास पर भी निरंतर कार्य किया जा रहा है। अधिगम के क्षेत्र में नई तकनीक के प्रभावी प्रयोग के लिए विद्यालय में कार्यशाला का आयोजन किया जाना है। जिससे पी.एम.श्री विद्यालय के निर्धारित लक्ष्यों को हासिल किया जा सके।

Angad rahi
दबाव और प्रभाव में खब़र न दबेगी,न रुकेगी
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments