Bullies beat up young man due to some rivalry, case registered against five.

आक्रोषित ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन की पक्का सम्पर्क मार्ग बनाने की मांग

तख्त बदल गए, ताज बदल गए किन्तु आज तक नही बन सका पक्का सम्पर्क मार्ग

शिवगढ़,रायबरेली :  तख्त बदल गए, ताज बदल गए। सरकारें आती रही,सरकारें जाती रही किन्तु आधा दर्जन से अधिक गांवों को जोड़ने वाले 3.5 किलोमीटर लम्बे हिन्दूगंज – अलीपुर सम्पर्क मार्ग पर न तो आज तक खडण्जा लगवाया गया और न ही किसी जनप्रतिनिधि अथवा विभाग ने इसे पक्का बनवाना मुनासिब समझा। वर्षों से इस कच्चे सम्पर्क मार्ग को पक्का मार्ग बनाए जाने की आस में बैठे ग्रामीणों का गुस्सा रविवार को फूट पड़ा आक्रोशित ग्रामीणों ने प्रदर्शन करते हुए पक्का सम्पर्क मार्ग बनाए जाने की मांग की है।

प्रदर्शन कर रहे ग्रामीण का कहना था कि यदि जल्द ही इस 3.5 किलोमीटर लम्बे कच्चे सम्पर्क मार्ग की जगह पर पक्का सम्पर्क मार्ग नहीं बनाया गया तो आन्दोलन किया जाएगा। प्रदर्शन कर रहे नागेंद्र कुमार, राम यादव, शिवम आदि ग्रामीणों ने बताया कि अड़ारुगंज वाया अलीपुर सम्पर्क मार्ग अड़ारुगंज से हिन्दूगंज तक तो पक्का बना हुआ है वहीं गांव के किनारे थोड़े में खडण्जा लगा हुआ है शेष करीब 3.5 किलोमीटर सम्पर्क मार्ग पूरी तरह से कच्चा है। गर्मी और बरसात के दिनों में इस सम्पर्क मार्ग से गुजारना मुश्किल हो जाता है गर्मी में जहां धूल उड़ा करती है तो वहीं बरसात में बड़े-बड़े गड्ढे और कचड़ा हो जाता जिस पर साधन से चलना तो दूर पैदल चलना भी दुश्वार हो जाता है।

ग्रामीणों ने बताया कि इस सम्पर्क मार्ग से करीब आधा दर्जन से अधिक गांवों के छात्र-छात्राएं अलीपुर और हलोर पढ़ने जाते हैं बारिश के दिनों में छात्र-छात्राओं एवं राहगीरों को मजबूरी में जूते चप्पल उतार कर हाथ में लेकर पैदल जाना पड़ता है। प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने बताया कि चुनाव के समय नेता और वोट के ठेकेदार आते हैं और इसे पक्का सम्पर्क मार्ग बनवाने का वादा करते हैं किन्तु चुनाव जीतने के बाद दुबारा वापस दिखाई नहीं देते। चुनाव जीतने के बाद तो ऐसे गायब हो जाते हैं जैसे गधे के सिर से सींघ।

शिवगढ़ की अन्य खबरे पढ़े :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *