Monday, March 4, 2024
Homeउत्तर प्रदेशबुलन्दशहरजनपद में 11 से 24 जुलाई तक मनाया जाएगा जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा

जनपद में 11 से 24 जुलाई तक मनाया जाएगा जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा

  • परिवार नियोजन के साधनों के प्रति दंपति को किया जाएगा जागरूक

उपेंद्र शर्मा/बुलंदशहर। शासन के निर्देश पर जनपद में 11 से 24 जुलाई तक विश्व जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा मनाया जायेगा।  जनपद में परिवार नियोजन के साधनों को बढ़ावा देकर दंपति को जागरूक किया जाएगा। पखवाड़े का मुख्य उद्देश्य परिवार को सीमित रखने के लिए जागरूक करना एवं परिवार नियोजन कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए गति प्रदान करना है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने सभी तैयारियां पूर्ण कर ली हैं। इस अभियान के अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग की टीम परिवार नियोजन के विभिन्न अस्थाई साधनों एवं स्थाई साधन नसबंदी के बारे में लोगों को जानकारी प्रदान करेगी।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से लाभार्थियों को इसे अपनाने के लिए प्रेरित भी किया जाएगा, जिससे अधिक से अधिक लोग परिवार नियोजन के साधनों को अपना सकें। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनय कुमार सिंह ने बताया – इस बार जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा की जो थीम है वह “परिवार को बनाएंगे खुशियों का विकल्प” इसी को ध्यान में रखते हुए जनपद में अंतर विभागीय समन्वय स्थापित करते हुए, इसकी पूर्ण कार्य योजना बनाई जाएगी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. विनय कुमार सिंह ने बताया- शासन के निर्देश पर जनपद में विश्व जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा चलाया जाएगा, जिसमें 27 जून से 10 जुलाई तक नव दंपति संपर्क पखवाड़ा चलाया जाएगा। पखवाड़े के दौरान नव दंपति को परिवार नियोजन के स्थाई व अस्थाई साधन अपनाने के लिए जागरूक किया जाएगा।

जनपद के ब्लॉक स्तर पर नव दंपति संपर्क पखवाड़ा को सफल बनाने लिए कार्य योजना बनाई जाएगी। आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं एएनएम के माध्यम से सभी लक्ष्य दम्पति तक इस जानकारी को पहुंचाने का कार्य किया जाएगा। जनपद के जिला चिकित्सालयों में नियमित रूप से शिविर का आयोजन किया जाता रहेगा।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा 11 जुलाई से मनाया जाना है। इस दौरान दम्पति को परिवार नियोजन के विभिन्न गर्भनिरोधक साधनों बास्केट ऑफ च्वॉइस के बारे में जानकारी दी जाएगी। साथ ही इच्छुक लाभार्थियों को परिवार नियोजन के सभी गर्भ निरोधक साधन उपलब्ध कराए जाएंगे। पखवाड़े का उद्देश्य इच्छुक लाभार्थियों को परिवार नियोजन की जानकारी देना व दंपति को परिवार नियोजन के स्थाई व अस्थाई साधनों की उपलब्धता सुनिश्चित करना है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments