Friday, February 3, 2023
Homeउत्तर प्रदेशजनपद में 86267 महिलाओं को मिला प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ

जनपद में 86267 महिलाओं को मिला प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ

रिपोर्ट – उपेंद्र शर्मा 

  • प्रथम बार मां बनने पर महिला को मिलते हैं पांच हज़ार रुपये
  • किसी भी समस्या के समाधान के लिए डायल करें हेल्पलाइन नंबर 104

बुलंदशहर, 5 दिसंबर 2022। जनपद में अब तक 86267 महिलाएं प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (पीएमएमवीवाई) का लाभ चुकी हैं। योजना के तहत पहली बार मां बनने पर तीन किस्तों में पांच हज़ार रुपये दिए जाते हैं। यह राशि गर्भवती और उसके होने वाले बच्चे के के पोषण के लिए दी जाती है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. विनय कुमार सिंह ने बताया प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के प्रति लाभार्थियों को जागरूक किया जा रहा है, जिससे जनपद में अधिक से अधिक लाभार्थियों को योजना का लाभ दिया जा सकें। लाभार्थियों को फार्म भरने में कोई समस्या होने पर समाधान के लिए सरकार द्वारा टोल फ्री नंबर भी जारी किया गया है। जिसके माध्यम से लाभार्थी  योजना के संबंधित जानकारी ले सकती हैं। यह योजना जनवरी 2017 में शुरू हुई थी। तब से अब तक करीब 86267 गर्भवती को इस योजना का लाभ मिल चुका है।

पीएमएमवीवाई के नोडल अधिकारी डॉ. प्रवीण कुमार ने बतायाकेंद्र सरकार की ओर से योजना के तहत पहली बार गर्भवती होने वाली महिला को तीन किस्तों में पांच हज़ार रुपये दिए जाते हैं। इसके लिए पंजीकरण कराना पड़ता है। रजिस्ट्रेशन होते ही लाभार्थी को एक हज़ार रुपये की पहली किस्त सीधे उसके बैंक खाते में भेजी जाती है। दूसरी किस्त दो हज़ार रूपये प्रसव पूर्व पहली जांच होने पर और दो हज़ार रूपये की तीसरी किस्त बच्चे के जन्म के बाद टीकाकरण का पहला चक्र पूरा होने के बाद दी जाती है। यह सभी भुगतान लाभार्थी के बैंक के खाते में सीधे किये जाते हैं।

जिला कार्यक्रम समन्वयक अनिता शर्मा ने बताया प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के आवेदन के लिए जरूरी दस्तावेज आधार कार्ड की फोटोकॉपी, बैंक या पोस्ट ऑफिस खाता की पासबुक वपहचान संबंधी अन्य विकल्प, पीएचसी या सरकारी अस्पताल से जारी स्वास्थ्य कार्ड, सरकारी विभाग/कंपनी/संस्थान से जारी कर्मचारी पहचान पत्र जरूरी है।

अनिता शर्मा ने बताया -इस वर्ष 2022 में अब तक 14,545 गर्भवती को योजना का लाभ मिला है। इसी क्रम में वर्ष 2017 में 6,391 महिलाओं को , वर्ष 2018 में 18,214 महिलाओं को, वर्ष व 2019 में 17,627 महिलाओं को, वर्ष 2020 में 12,655  महिलाओं को, वर्ष 2021 में 16,835 महिलाओं को लाभ दिया गया है।

हेल्पलाइन नंबर 104 पर मिलती है योजना की जानकारी :

जिला कार्यक्रम समन्वयक बताया योजना के सम्बंध में अधिक जानकारी या किसी भी समस्या के लिए टोल फ्री नंबर 104 पर संपर्क किया जा सकता है।जनपद के दानपुर ब्लाक के गांव हिम्मतगढ़ी निवासी महिला लाभार्थी सुमन पत्नी दिनेश ने बताया वर्ष 2021 में उनके बेटा पैदा हुआ था, उन्हें आशा कार्यकर्ता के सहयोग से प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत तीन किस्तों में पांच हज़ार रुपए की धनराशि मिली। पंजीकरण के बाद एक हज़ार रूपए,  प्रसव के बाद दो हज़ार रूपए एवं बेटे के सम्पूर्ण टीकाकरण के पश्चात दो हज़ार रुपय खाते में आए। इन रुपयों से सुपोषित आहार और फल-दूध लेने में सहुलियत हुई।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments