Thursday, February 2, 2023
Homeउत्तर प्रदेशक्या है बागेश्वर धाम की महिमा

क्या है बागेश्वर धाम की महिमा

श्री डेस्क: आइए जानते हैं बागेश्वर धाम के बारे में क्या है इन की महानता  आज के समय में सोशल मीडिया में बागेश्वर धाम बहुत ज्यादा ही चर्चा का विषय बना हुआ है। महाराज धीरेंद्र शास्त्री  इस समय मीडिया में बहुत तरह से तहलका का विषय है ।

मध्यप्रदेश में बागेश्वर धाम का दरबार है और लाखों भक्त इनकी सभी वीडियो को देखते हैं और लाइक सब्सक्राइब शेयर भी करते हैं  । इसलिए कि वह सभी भक्तों की बातें बिना बताए ही जान जाते हैं और उनकी समस्याओं को समाधान करते हैं कि हनुमानजी के भक्त हैं ।देशभर के लोग उन्हें हनुमानजी का अवतार भी बताते हैं इसलिए यह दुनिया भर में सभी के दिलों के चहेते बन गए हैं ।

आइए जानते हैं महाराज के जीवन के बारे में आपको बताएंगे   बाबा  महाराज धीरेंद्र कृष्ण  का जन्म 4 जुलाई 1996 को मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के गांव में ब्राह्मण घर में हुआ था। इनके पिता रामकृपाल और माता सरोज गर्ग है इनके दादा जी उनकी एक बहन और एक छोटा भाई भी है ।शुरुआती जीवन में इनको काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा और उनका परिवार बहुत ही गरीब था जिसके कारण उन्हें सुख सुविधा नहीं मिली  ।

महाराज शास्त्री जी को बचपन से आध्यात्मिक चीजों का काफी शौक था उन्होंने सारी शिक्षाओं की प्राप्ति की महाराज ने अपनी शिक्षा गांव के स्कूल में प्राप्त किया और और जब वह बड़ी क्लास में गए तो उन्हें गांव से 5 किलोमीटर एक सरकारी विद्यालय में पढ़ने के लिए पैदल जाना पड़ता था और उसके बाद उन्होंने अपना दाखिला एक कॉलेज में करवाया और वहां से बीए की शिक्षा की पूरी की और फिर उसके बाद इनकी पढ़ाई में मन नहीं लगा और उन्होंने अपने दादा जी से जिसे बागेश्वर धाम की सारी शिक्षा प्राप्त की और बागेश्वर धाम की गद्दी को संभालने लगे और उन्होंने कुछ दिनों तक भगवान सत्यनारायण की पूजा घर घर जाकर करते थे जिससे इनकी आर्थिक स्थिति में काफी सुधार हुआ फिर बागेश्वर बालाजी को काफी पूजा पाठ करके सभी शक्तियां प्राप्त की जिससे सभी भक्तजनों का कल्याण करने लगे और सभी के संकटों का समाधान करने लगे और सभी भक्तों की भक्ति में हनुमान जी का अवतार मानने लगे और इनकी भक्ति करने लगे ।

बागेश्वर धाम जाने के लिए क्या करें

मंगलवार के दिन सबसे पहले अपने घर के मंदिर में    सबसे पहले नहा धोकर अपने घर में मंगलवार को मंदिर में एक लाल कपड़े में एक नारियल और उसके बाद उसे अपने घर के मंदिर में रखदे और इंतजार करें जब स्वप्न में आपको हनुमान जी का कोई स्वरूप दिखाई दे या हनुमान जी की मूर्तियां बंदर दिखाई पड़े तो समझ जाना चाहिए कि हमारा बुलावा है और  हमें वह नारियल लेकर बागेश्वर धाम पहुंच जाना चाहिए और जाकर अपनी अर्जी लगाने के लिए आपको तीन बार जरूर जाना चाहिए और फिर अपनी बारी आने का इंतजार करना चाहिए और फिर हमारी समस्या का समाधान हो जाएगा ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments