पुलिस कर रही दूधियों का उत्पीड़न : पं.राघवेन्द्र मिश्र

Raebareli Uttar Pradesh

धैर्य शुक्ला

रायबरेली। एडिशनल सालिसिटर जनरल भारत सरकार के पूर्व अधिवक्ता पं0 राघवेन्द्र मिश्र ने प्रशासन से मांग की है कि दूधियों का पुलिस द्वारा किया जा रहा उत्पीड़न रोका जाय। श्री मिश्र ने कहा है कि प्रशासन, पुलिस, स्वास्थ्य, सफाईकर्मी कर्मवीरों की तरह रक्षा कर रहे हैं। जिस प्रकार हाकर घर-घर समाचार-पत्र पहुंचाकर हमें देश-विदेश की खबरों से अवगत कराते हैं, उसी प्रकार दूधिये भी कर्मवीरों की तरह घर-घर दूध पहुंचाकर बच्चों एवं बुजुर्गो की दवा के लिए दूध पहुंचाकर अपना फर्ज अदा करते हैं, जब अन्य कर्मवीरों का हम उनकी सेवाओं के लिए सम्मान करते हैं तो दूधियों के अपमान की बात कहां से आती है। पैकेट बन्द दूध की गाड़िया बे रोक-टोक आती-जाती हैं, उन्हें कोई नहीं रोकता है, यद्यपि उन्हें रोकने की आवश्यकता भी नहीं है, फिर दूधियों के ऊपर पुलिसिया उत्पीड़न क्यों किया जाता है, जिससे वह अपनी रोजी-रोटी ठीक से नही चला पा रहे हैं, साथ ही लोगों के घरों तक दूध पहुँचाने में भी कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है। श्री मिश्र ने प्रशासन से मांग की है कि दूधियों का पुलिस द्वारा किया जा रहा उत्पीड़न रोका जाये, जिससे वे सुगमतापूर्वक अपने मानवीय कार्य को अंजाम दे सकें।

Total Page Visits: 108 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *