मोदी नफरत और क्रोध की भावना का चिन्ह- राहुल

Raeabreli Uttar Pradesh

रायबरेली। लगभग दो बजे अमेठी सलोन पहुचे क्षेत्रीय सांसद राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी भगवान का नाम लेकर दिनभर झूठ बोलते हैं। मोदी नफरत और क्रोध की भावना का चिन्ह हैं। अपने सम्बोधन के दौरान आक्रामक अंदाज में दिखे राहुल गांधी का अंदाज गुरुवार को बिल्कुल अलग था। श्री गांधी ने कहा की मोदी जब से प्रधानमंत्री बने है

देश मे नफरत फैलाई है। हिन्दू से मुसलमान को लड़ाया है। यह देश नफरत से नही भाई चारे से चलेगा। और इस चुनाव में कांग्रेस की सरकार आने वाली है। राहुल गांधी ने कहा मैं झूठ नहीं बोलता हूंए जो बोलता हूं वही करता हूं। उन्होंने कहा कि देश मे अगला प्रधानमंत्री कांग्रेस का होगा यह लिख लो। विधान सभा के सलोन कस्बे में सांसद राहुल गांधी ने कहा कि देश का चौकीदार चोर है। जिसके बाद उन्होंने अपना सम्बोधन शुरू किया। उन्होंने बताया कि चौकीदार ने भारतीय वायुसेना से 30 हजार करोड़ रुपये लेकर अपने उद्योगपति मित्र अनिल अम्बानी को दे दिये है। मोदी ने 526 करोड़ रुपये का राफेल विमान 1600 करोड़ में खरीदने का सौदा किया। राहुल गांधी यही नही रुके उन्होंने मोदी पर हमला जारी रखते हुए कहा कि राफेल घोटाले की जांच का खुलासा करने वाले सीबीआई निदेशक को भी हटाने का प्रयास किया। यह निर्णय किसी और ने नही देश के चौकीदार यानी खुद प्रधानमंत्री ने लिया है। राहुल ने जनसभा में आए लोगों से पूछा कि क्या आपको अभी तक 15 लाख रुपये मिले। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने 30 हजार करोड़ रुपये की चोरी करके अपने उद्योगपति मित्रों की जेब मे डाला है। मोदी का 56 इंच का सीना अब कमजोर हो गया है, हमारे देश के प्रधानमंत्री ने चीन के सामने घुटने टेक दिए, आज भारत मे फोन से लेकर पुलिस की वर्दी तक सब कुछ मेड इन चाइना का बिकता है। कांग्रेस अध्यक्ष ने यूपी में गठबंधन पर सीधा जवाब नही दिया। लेकिन मुलायम सिंह यादव, मायावती और अखिलेश यादव का सम्मान करता हूं।कहकर कांग्रेस को बीजेपी की विचार धारा से अलग बताया। वह चलते चलते मौजूद जनता से कहा कि मैने कांग्रेस पार्टी की महा सचिव प्रियंका गांधी को आपके विधान सभा मे आप सबका आशीर्वाद लेने के लिये कह दिया हूं। वह बहुत जल्द आप सबके बीच मे मौजूद मिलेंगी।
श्री समाचार ब्यूरो
हेमंत कुमार अग्रहरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *