पूर्व कैबिनेट मंत्री मनोज कुमार पांडेय के मुनीम से हुई लूट का हुआ पर्दाफाश*

Raeabreli Uttar Pradesh

रायबरेली== पूर्व कैबिनेट मंत्री डाॅ0 मनोज कुमार पाण्डेय के मुनीम के साथ हुई सनसनीखेज लूट की घटना का खुलासा करते हुए पुलिस ने चार लाख 76 हजार रुपए बरामद कर दो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। इस लूट का मास्टर माइंड पूर्व कैबिनेट मंत्री के यहां काम करने वाला एक कर्मचारी है, जिसे गबन के आरोप में निष्कासित किया जा चुका था। मुनीम कब कहां से कितने रुपए लेकर आता है, यह सारी जानकारी इस पूर्व कर्मचारी को थी। इसी वजह से इसने लूट का तानाबाना बुना। हालांकि इससे पहले भी इस कर्मचारी ने लूट की साजिश रचने की कई बार कोशिश की लेकिन पूर्व कैबिनेट मंत्री का नाम सुनते ही कोई हाथ डालने को तैयार नहीं हो रहा था।

फिलहाल कोतवाली पुलिस और सर्विलांस व स्वाट टीम की मदद से इस बड़े लूटकाण्ड का खुलासा कर लिया गया है। अपर पुलिस महानिदेशक और पुलिस महानिरीक्षक लखनऊ तथा एसपी की ओर से गुडवर्क करने वाली टीम को 50 हजार रुपए का पुरस्कार देने की घोषणा की गई है। जानकारी के अनुसार 18 जनवरी को पूर्व कैबिनेट मंत्री व ऊंचाहार के सपा विद्दायक डाॅ0 मनोज कुमार पाण्डेय के मुनीम से उस समय चार लाख 87 हजार की लूट हुई थी। जब कई जनपदों से पैसा कलेक्ट करके आ रहे थे। इस मामले में पुलिस ने मुनीम द्दीरेन्द्र कुमार पुत्र राजकुमार निवासी मिनी फ्लोर मिल प्रा0लि0 गुल्लूपुर कठवारा की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया था। इस लूट के बाद जिले भर में हड़कम्प मचा था। लूटेरों ने मुनीम जब रेलवे स्टेशन से अपनी स्कूटी द्वारा जा रहा था तो अंद्देरे में लोहे की राॅड से हमला कर घायल कर दिया था। कई दिनों तक इस लूटकाण्ड के खुलासे में जुटी टीमें सबूत जुटाती रहीं। अंततः इसमें सफलता मिल गई। इस पूरे मामले की जब पुलिस ने छानबीन की तो पता चला कि दिनेश पासी पुत्र छंगा निवासी नकफुलहा थाना कोतवाली नगर ने इस लूट की योजना बनाई थी। मास्टर माइंड दिनेश ने इस काम में मटिहा निवासी रामकुमार उर्फ बंदरिया पुत्र ललऊ प्रसाद तथा विमल कश्यप पुत्र सुरेश कश्यप को अपने साथ लिया था। यह दोनों पहले से कई मामलों में अभियुक्त थे। पुलिस ने जब दोनों आरोपियों को पकड़ा तो लूट की कहानी बेपर्दा हो गयी। अभियुक्तों के पास से चार लाख 76 हजार रुपए नगद बरामद हुए हैं। पुलिस को एक अवैद्द तमंचा, घटना में प्रयुक्त लोहे की राॅड और मुनीम के बैंक का सामान बरामद हुआ है। पुलिस अभी मास्टर माइंड दिनेश की तलाश में है। एसपी सुनील कुमार सिंह ने घटना का खुलासा करते हुए गुडवर्क करने वाली टीम को शाबाशी दी है। एसपी ने कहा कि इतने कम समय में लूट का खुलासा और लगभग शत-प्रतिशत रिकवरी करने वाली टीम बद्दाई की पात्र है। इस लूटकाण्ड का खुलासा करने में कोतवाल अशोक कुमार सिंह प्रभारी स्वाट टीम राकेश सिंह, प्रभारी सर्विलांस अमरेश त्रिपाठी, उपनिरीक्षक संजय कुमार सिंह, देवेन्द्र अवस्थी, राघवेन्द्र सिंह सहित पूरी टीम का सराहनीय योगदान रहा।
श्री समाचार ब्यूरो
हेमंत कुमार अग्रहरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *