उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन का असर, लखनऊ में पांच दिन से कोरोना का नया मामला नहीं

Raebareli Uttar Pradesh

प्रमोद राही

लखनऊ।लॉकडाउन और लोगों के सहयोग का नतीजा उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में नजर आ रहा है। पांच दिन से कोरोना संक्रमण की चपेट में कोई नया मामला सामने नहीं आया है। डॉक्टरों का कहना है कि बिना लोगों के सहयोग के कोरोना से जंग जीत पाना कठिन है। सोशल डिस्टैंसिंग से हम लोग कोरोना को हरा सकते हैं।
बीते 20 मार्च को लखनऊ में बॉलीबुड गायिक कानिका कपूर में संक्रमण की पुष्टि हुई थी। कानिक ने लखनऊ में कई पार्टियों में शिरकत की थी। यह सुनकर स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के होश उड़ गए थे। स्वास्थ्य विभाग ने कड़ी मशक्कत कर कनिका के संपर्क व पार्टी में शामिल सभी लोगों की जांच की। अभी तक जांच में किसी में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई है। सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल के मुताबिक लोगों को 14 दिन एकांत में रहने की सलाह दी गई उनका भी भरपूर सहयोग मिल रहा है। कोरोना सैम्पल कलेक्शन के नोडल ऑफिसर डॉ. एपी सिंह के मुताबिक लगातार जांच के लिए संदिग्ध लोगों के नमूने एकत्र किए जा रहे हैं। भरपूर सहयोग व एहतियात से संक्रमण के प्रसार को रोकने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना को हराने का असली वक्त आ गया है। लोग घरों में रहें। मिलना-जुलना 21 दिनों तक पूरी तरह से बंद कर दें। वहीं दूसरी ओर इस सम्बंध में केजीएमयू पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग के अध्यक्ष डॉ. वेद प्रकाश ने बताया कि हाथ धुलकर और लोगों से दूरी बनाकर बीमारी को मात दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि लोगों को धैर्य रखने की जरूरत है। हर सर्दी जुकाम कोरोना वायरस नहीं हो सकता है। इसलिए अफवाहों से बचकर रहें।

Total Page Visits: 179 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *