छत्तीसगढ़ नक्सली हमले में बनारस व गाजीपुर के दो बेटे शहीद

Featured National Uttar Pradesh

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में रविवार को हुए नक्सली विस्फोट में बनारस के बड़ागांव के बसनी दल्लूपुर निवासी छत्तीसगढ़ आम्र्ड फोर्स (सीएएफ) के जवान रविनाथ सिंह पटेल (23) व शादियाबाद (गाजीपुर) थानाक्षेत्र के बरईपारा गांव के अर्जुन राजभर (35) शहीद हो गए। यह खबर सुनते ही शहीदों के गांव में मातम छा गया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नक्सली हमले में शहीद हुए जवान अर्जुन राजभर और रविनाथ सिंह पटेल को भावभीनी श्रद्धांजलि दी है। मुख्यमंत्री ने जवानों के परिवारीजन के प्रति अपनी गहरी सहानुभूति और संवेदना व्यक्त की है।

शहीद रवि के परिवार में दोपहर को फोन कॉल आई। सबसे छोटी बहन को सीएफ के अफसरों ने बताया कि उनका भाई शहीद हो गया है। यह सुनते ही वह सदमे में आ गई। कुछ देर रोने के बाद उसने बूढ़े मां-बाप को इस बारे में बताना चाहा लेकिन, कहीं अनहोनी न हो जाए, इसके डर से बस इतना बताया कि भाई का एक्सीडेंट हो गया है,

उधर, अर्जुन राजभर के शहीद होने की खबर मिलते ही उनके पिता बलिराम राजभर व माता रमावती देवी पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। घरवालों को अर्जुन का पार्थिव शरीर घर आने का इंतजार है। अर्जुन राजभर पांच भाइयों में चौथे नंबर पर थे। शेष चारो भाई मुंबई में रहकर फूल-माला का कारोबार करते हैं। उनकी एक बहन भी है जिसका विवाह हो चुका है। नक्सलियों के विस्फोट में छह जवान शहीद हुए, जबकि अर्जुन गंभीर रूप से घायल हो गए बाद में इलाज के दौरान उनकी भी मौत हो गई।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *