इमरजेंसी में भी रही मरीजों की भारी भीड़

Raebareli Uttar Pradesh

अंगद राही

रायबरेली।नोवेल कोरोना वायरस को लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिवगढ़ में मरीजों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है। विदित हो कि कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को कम करने के लिए शासन के निर्देश पर शुक्रवार को सीएचसी शिवगढ़ में ओपीडी बंद रही, इसके बावजूद काफी भीड़ देखने को मिली। सीएचसी पहुंचे करीब डेढ़ सौ मरीजों ने इमरजेंसी में दिखाकर दवा ली। सीएचसी अधीक्षक डॉक्टर एलपी सोनकर ने बताया कि सीएचसी शिवगढ़ में अभी तक किसी भी तरह का कोई कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज नहीं पाया गया। आशा बहू, एएनएम और आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां गांवों में घर – घर जाकर लोगों को कोरोना वायरस से बचने के लिए सचेत कर रही है। सीएचसी अधीक्षक डॉ.एलपी सोनकर ने जानकारी देते बताया कि सीएचसी शिवगढ़ में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए 2 बेड का एक अलग आइसोलेशन वार्ड बनाया गया। जिसमें कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज को भर्ती किए जाने से लेकर उनके इलाज तक की सभी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध है। डॉक्टर एलपी सोनकर ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना वायरस से घबराए नहीं बल्कि सावधानियां बरतें। श्री सोनकर ने लोगों को सजग करते हुए कहा कि दिन में बार – बार साबुन से हाथ धुलें, छींक अथवा खांसी आने पर मुंह पर हाथ लगाने के बजाय रुमाल, टेशू पेपर अथवा कोहनी से नाक मुंह ढककर छींके अथवा खासें। पानी उबालकर पियें, जरा सी दिक्कत महसूस होने पर नमक पानी गर्म करके  गलाला करें। दिन में दो तीन बार भाप लें, जरा सी दिक्कत महसूस होने पर नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जांच कराकर चिकित्सक का परामर्श लें।बाहर के खुले एवं तले भुने फास्ट फूड बिल्कुल मत खाएं। घर का बना हुआ सादा भोजन करें। संक्रमित व्यक्ति अथवा संक्रमित वस्तुओं के स्पर्श से कोरोना का संक्रमण फैलता है इसलिए किसी से हाथ मिलाने के अपेक्षा हाथ जोड़कर नमस्कार  अथवा प्रणाम करें, हाथों में सैनेटाइजर लगाएं। अपनी आंख नाक मुंह को छूने से बचें। सीएचसी अधीक्षक डा.एलपी सोनकर ने सभी क्षेत्रवासियों से अपील कि है सिर्फ मरीज ही अस्पताल आए, मरीज के साथ अनावश्यक लोग अस्पताल न आएं, क्योंकि भीड़ भाड़ में संक्रमण फैलने की ज्यादा संभावना रहती है। इमरजेंसी में पहुंचे मरीजों को बगैर पर्चे के जांच करके दवा दी गई। श्री सोनकर ने कहा कि यदि 50 वर्ष से ऊपर के लोगों में हल्की-फुल्की दिक्कत महसूस हो तो स्वयं अस्पताल ना आकर किसी को भेजकर भी इमरजेंसी में दवा ले सकते हैं। श्री सोनकर ने सभी से अपील करते हुए कहा कि 22 मार्च दिन रविवार को होने वाले जनता कर्फ्यू को सफल बनाएं। कोरोना वायरस की कड़ी को तोड़ने के लिए जनता कर्फ्यू में सभी का सहयोग अपेक्षित है।

Total Page Visits: 116 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *