केजीबीवी अमावां में 5 दिवसीय जीवन कौशल विकास प्रशिक्षण का हुआ समापन

Raebareli Uttar Pradesh

” सचेत रहकर करें अपने आपको सुरक्षित” :चौकी इंचार्ज

धैर्य शुक्ला

अमावां, रायबरेली।राज्य परियोजना कार्यालय द्वारा समग्र शिक्षा अभियान में स्पेसिफिक स्कूल के तहत के जीबीवी में पढ़ने वाली बालिकाओं के लिए पांच दिवसीय जीवन कौशल विकास शिविर संचालित कर सभी बच्चों को स्वास्थ्य, शिक्षा, सुरक्षा, अभिव्यक्ति, निडर, साहसी, निर्णय लेने की क्षमता जैसे कौशल विकसित करने हेतु जागरूक बनाया जा रहा है। आज केजीबीवी अमावां में समापन अवसर पर स्थानीय चौकी इंचार्ज विजय प्रताप सिंह एवं महिला हेड कॉन्स्टेबल की टीम द्वारा बालिकाओं को जानकारी देते हुए बताया गया कि बालिकाएं स्वयं सचेत रहकर अपने आप को सुरक्षित रख सकती हैं। किसी भी लालच और बहकावे में आने से बचें महिला हेल्पलाइन नंबर 1090, 181,112 पर डायल कर पुलिस की मदद ले सकती हैं। उन्होंने कहा कि विषम परिस्थितियों में जोर से आवाज देकर, जूडो कराटे, हिम्मत और साहस से सामना करें। बालिका शिक्षा रिसोर्स पर्सन एसएस पांडे नें पांच दिवसीय शिविर का उद्देश्य बताते हुए कहा कि बालिकाओं का जीवन कौशल आने वाले भविष्य के लिए तैयार होना, गुड टच, बैड टच, क्या करें, क्या ना करें, अच्छे बुरे की पहचान, खुद को प्रभावशाली बनाना, बातचीत करना हम भी किसी से कम नहीं के साथ-साथ स्वास्थ्य शिक्षा एवं सुरक्षा के बारे में विधिवत जानकारी देकर उन्हें सशक्त कैसे बनाया जाए यह बताया गया। रिसोर्स पर्सन सौदामिनी सिंह एवं कविता यादव द्वारा मीना मंच के उद्देश्य, कौशल, पावर एंजेल की भूमिका, पर सभी बच्चों को जानकारी दी गई। समापन सत्र में मलेरिया विभाग में मलेरिया निरीक्षक आरके गौतम, गौरव वर्मा द्वारा संचारी रोग की पहचान, बचाव, लक्षण के बारे में जानकारी दी गई। आने वाली टीम को प्रभारी वॉर्डन निधि शुक्ला द्वारा आश्वस्त किया गया की केजीबीवी अमावां में सभी जानकारी से बच्चों को समय-समय पर जागरूक किया जाएगा। विद्यालय वार्डन गीतांजलि द्वारा इस प्रशिक्षण कार्यक्रम की उचित व्यवस्था की गई। इस अवसर पर विद्यालय का पूरा स्टाफ उपस्थित रहा। संचालन सौदामिनी सिंह एवं आभार प्रभारी वार्डन निधि शुक्ला द्वारा व्यक्त किया गया।

Total Page Visits: 145 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *