मां गंगा की गोदी में श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी

Raebareli Uttar Pradesh

डलमऊ,रायबरेली। माघ माह के माघी पूर्णिमा के शुभ अवसर पर विभिन्न क्षेत्र एवं जनपदों से आकर हजारों श्रद्धालुओं ने डलमऊ गंगा तट पर हर हर गंगे के जयकारों के साथ आस्था की डुबकी लगाई। तथा गंगा घाट पर स्थित देवी देवताओं के मंदिरों में पहुंचकर विधिवत पूजा-अर्चना के साथ मन्नते मांगी। माघ माह के माघी पूर्णिमा के शुभ अवसर पर रविवार को विभिन्न जनपदों एवं क्षेत्रों से श्रद्धालुओं की भीड़ डलमऊ गंगा घाट पर लगी रही।

रायबरेली जनपद समेत विभिन्न क्षेत्रों एवं जनपदों से श्रद्धालुओं ने पूर्णिमा के 1 दिन पूर्व ही गंगा घाट पर तीर्थ पुरोहितों के घरों में अपना डेरा डाल दिया था। प्रातकाल होने पर श्रद्धालुओं ने गंगा नदी में स्नान करना प्रारंभ कर दिया था। प्रशासन की लापरवाही की वजह से स्नान घाटों श्रद्धालुओं को अव्यवस्थाओं के बीच ही स्नान करना पड़ा। श्रद्धालुओं को स्नान घाटों पर बदहाल मार्गों एवं घाटों पर लगे गंदगी के अंबार के बीच है हवन पूजन करते रहे।

डलमऊ मुराई बाग मार्ग पर लगा रहा भीषण जाम

वैसे तो प्रत्येक माह की पूर्णिमा पर डलमऊ गंगा घाट पर श्रद्धालुओं की भारी संख्या में भीड़ लगी रहती है लेकिन प्रशासन की लापरवाही की वजह से दूरदराज से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए प्रशासन की तरफ से कोई भी व्यवस्था नहीं की जाती आलम यह रहा इस श्रद्धालुओं को अव्यवस्थाओं के बीच ही गंगा नदी में स्नान करना पड़ा हद तो तब हो गई जब डलमऊ मुराई बाग मार्ग पर लगभग आधे घंटे तक भीषण जाम लगा रहा। बताया जाता है कि भारी जाम लगने की वजह डलमऊ मुराई बाग मार्ग पर दुकानदारों द्वारा मेले के दौरान अतिक्रमण किया गया था। डलमऊ डाक घर के पास दुकानदारों ने सड़क पर ही अपनी दुकाने लगा रखी थी। माघी पूर्णिमा पर श्रद्धालुओं की भीड़ अधिक होती है ।

मां गंगा के साथ श्रद्धालुओं ने ली सेल्फी

माघी पूर्णिमा पर दूरदराज से आए श्रद्धालुओं ने गंगा नदी में आस्था की डुबकी लगाकर मन्नतें मांगी। वहीं दूसरी तरफ गंगा के पावन तट पर मनोहर दृश्य देखकर श्रद्धालु स्वयं को नहीं रोक सके उन्होंने मोबाइल निकाला और सेल्फी लेने लगे देखते ही देखते अन्य श्रद्धालु भी स्वयं को ना रोक पाए भला पूर्णिमा का दिन हो गंगा नदी का दरबार हो और आसपास भीड़ है तो क्यों ना सेल्फी ली जाए श्रद्धालु इस अवसर को छोड़ने में कैसे विफल हो सकते हैं।

Total Page Visits: 81 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *