लोगों के दिलों में आज भी जिंदा है नेताजी सुभाष चंद्र बोस

Raebareli Uttar Pradesh

दीपचन्द मिश्रा

बछरावां,रायबरेली। दयानन्द पीजी कॉलेज बछरावां के राजनीति विज्ञान विभाग द्वारा नेता सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती समारोह का आयोजन किया गया। नेता जी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा पर मुख्य अतिथि डॉ रामनरेश चीफ प्रॉक्टर डॉ कल्पना, डॉ विष्णु चन्द्र, श्री राजेश चंद्रा, छात्र उत्कर्ष शिवम शिवांश शिवम यादव रचना संध्या आदि ने माल्यार्पण और पुष्पांजलि की ।इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महाविद्यालय के विशेष कार्याधिकारी, पूर्व प्राचार्य डॉ रामनरेश ने छात्र छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि “नेता सुभाष चंद्र बोस जैसे महापुरुष कभी मरते नहीं है।

वे अपने विचारों में सदा अमर रहते हैं। नेता जी की जन्म दिवस को क्रांति दिवस के रूप में मनाया जाना चाहिए।”
महाविद्यालय की चीफ प्रॉक्टर एवं राजनीति विज्ञान विभाग की विभागाध्यक्ष डॉक्टर कल्पना श्रीवास्तव ने कहा की “नेताजी को हमारे देश की सरकारों ने वह सम्मान नहीं दिया जिसके वे हकदार थे। परंतु नेताजी सुभाष चंद्र बोस आम जनमानस के ह्रदयों में आज भी स्थापित है। युवाओं को उनसे प्रेरणा लेनी चाहिए।”क्रीडा विभाग के संचालक श्री राजेश चंद्रा ने बताया कि सुभाष चंद्र बोस अन्याय सहने को सबसे बड़ा अपराध मानते थे। कार्यक्रम का संचालन करते हुए डॉ विष्णु चंद्र श्रीवास्तव ने कहा कि आज युवाओं को सुभाष चंद्र बोस ,भगत सिंह आदि के विचारों को पढ़ना चाहिए ।
महाविद्यालय के छात्र शैलेंद्र तिवारी, रूबी ,हिमांशी, सूर्य प्रकाश आदि ने नेता जी सुभाष चंद्र बोस पर अपने विचार व्यक्त किए।

Total Page Visits: 154 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *