नशा जीवन के विकास में बाधक है- एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह

Raebareli Uttar Pradesh अभियान जागरूकता

पंकज गुप्ता
श्री महावीर सिंह स्नातकोत्तर महाविद्यालय हरचंदपुर रायबरेली में सामाजिक एवं न्याय अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा नशा मुक्ति अभियान के तहत हुई त्रिदिवसीय प्रतियोगिताओं का समापन हुआ। निबंध प्रतियोगिता में कविता साहू ने प्रथम, अंसारी मिर्जा ने द्वितीय, भाषण प्रतियोगिता में अंसारी मिर्जा ने प्रथम जयदीप पांडे ने द्वितीय, पोस्टर प्रतियोगिता में सोनी ने प्रथम पूनम ने द्वितीय, 500 मीटर के लड़कों के दौड़ में अमित यादव ने प्रथम, लड़कियों की 500मित्र दौड़ में आराधना यादव ने प्रथम स्थान तथा धीमी साइकिल प्रतियोगिता में अभिषेक यादव ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा आराधना यादव छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय कानपुर में एथलीट्स की टॉपर है।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने सभी विजेताओं को प्रथम, द्वितीय, तृतीय और संतावना पुरस्कार के साथ प्रमाण पत्र प्रदान किया। एमएलसी ने कहा कि कोई भी नशा हमारे सामाजिक, आर्थिक और शारीरिक जीवन में बाधा बना रहता है। नशा अनेक अपराधों का कारण भी है। यदि शिक्षक या अभिभावक नशा करता है तो अपने संतानों या छात्रों को कैसे सुधरेगा? एमएलसी ने कहा कि विश्वविद्यालय की एथलीट्स टॉपर छात्रा आराधना यादव को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय एथलीट्स में प्रतिभाग करने के लिए जो भी आर्थिक खर्च आएगा उसे में अपने पास से वहन करूँगा।
विशिष्ट अतिथि अवधेश सिंह पूर्व अध्यक्ष, जिला पंचायत रायबरेली ने कहा कि हमें अपने लिए ना सही, अपने परिवार के लिए सोचना चाहिए। नशे के कारण घरेलू हिंसा प्रति वर्ष बढ़ रही है। इसे निश्चित रूप से रोकना होगा। महाविद्यालय के संरक्षक पूर्व प्रिंसिपल त्रिभुवन बहादुर सिंह ने सभी शिक्षक गैर शिक्षक और छात्र छात्राओं से वचन लिया कि आज के बाद कभी भी धूम्रपान नहीं करेंगे। स्वागत भाषण प्राचार्य अजय कुमार ने दिया। दयाशंकर राष्ट्रपति पुरस्कृत ने बताया कि नशा के कारण धन हानि, जनहानि और बल हानि हो रही है, इस पर चिंतन करना होगा। एनसीसी सीटीओ डॉ जयेंद्र सिंह, भूगोल विभाग अध्यक्ष राहुल कुमार, शक्ति श्रीवास्तव, असि0 प्रोफेसर दीपिका मौर्या, अकबाल सिंह आदि ने प्रतियोगिताओं को संपन्न कराया।
भारत सरकार द्वारा नशा मुक्ति अभियान कार्यक्रम का संयोजन और संचालन अशोक कुमार असिस्टेंट प्रोफेसर, कुलानुशासक ने करते हुए कहा कि प्रतिवर्ष अपराध बढ़ते ही जा रहे हैं। ‘हम सुधरेंगे, जग सुधरेगा’ को मन से, वचन से और कर्म से अंगीकृत करना होगा, तभी हमारा कल्याण हो सकता है। नशे के कारण इंसान में चिड़चिड़ापन और उसकी शक्तियों का ह्रास होता जा रहा है। भारत सरकार ने स्वच्छता अभियान शुरू किया है, उसी तरह नशा मुक्ति अभियान शुरू कर के हम देश को निश्चित रूप से और आगे बुलंदियों पर ले जा सकते हैं।
अंत में धन्यवाद ज्ञापन अंग्रेजी विभागाध्यक्ष गुरुदेव गुप्ता ने किया। इस अवसर पर डीफार्मा की प्रिंसिपल रीना उपाध्याय, शिवशंकर, दीपिका मौर्या, विनोद यादव, अकबाल सिंह, अनुराग चौधरी, अरुण शर्मा आदि उपस्थित थे।

Total Page Visits: 46 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *