डीएम ने किया विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ

Uttar Pradesh उद्घाटन बुलन्दशहर

उपेन्द्र शर्मा

रैली निकाल लोगों को किया साफ-सफाई के प्रति जागरूक

  • 10 से 24 मार्च तक चलेगा दस्तक पखवाड़ा

बुलंदशहर। जनपद में सोमवार को विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ हुआ। जिला अस्पताल प्रांगण से जागरूकता रैली निकाली गयी। शहर के मुख्य चौराहे से होते हुए रैली पुनः अस्पताल प्रांगण आकर समाप्त हुई। सोमवार (एक मार्च) से शुरू हुआ संचारी रोग नियंत्रण अभियान 31 मार्च तक चलेगा। इस अभियान की कड़ी में 10 से 24 मार्च तक दस्तक पखवाड़ा चलेगा। इसी दौरान राष्ट्रीय कृमि मुक्ति अभियान, कुष्ठ कार्यक्रम, टीबी रोगी खोजी कार्यक्रम, आयुष्मान गोल्डन कार्ड सहित कई कार्यक्रम संचालित किये जाएंगे।
संचारी रोग नियंत्रण अभियान के तहत निकाली गयी रैली का शुभारंभ जिला अधिकारी रविंद्र कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. भवतोष शंखधर ने संयुक्त रूप से झंडी दिखाकर किया। रैली में पैदल कर्मचारी, थ्रीव्हीलर, ई-रिक्शा सहित एम्बुलेंस को शामिल कर  विभिन्न स्लोगनों के माध्यम से लोगों को जागरूक किया गया।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. भवतोष शंखधर ने बताया ग्राम स्तर पर लोगों में संचारी व वेक्टर जनित रोगों से बचाव के लिए आशा द्वारा क्लोरीनेशन डेमो दिया गया एवं शौच के बाद और भोजन से पूर्व हाथ धोने की जानकारी दी गई। वहीं स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण समिति की बैठक में ग्राम प्रधान को गांव की नालियों की साफ-सफाई के प्रति जागरूक रहने को कहा गया है। जागरूकता अभियान के तहत शिक्षक प्रतिदिन एक घंटे स्कूली बच्चों को वेक्टर व संक्रामक बीमारियों के प्रति जागरूक करेंगे।
जिला मलेरिया अधिकारी बीके श्रीवास्तव ने बताया कोरोना काल में इस अभियान का मुख्य उद्देश्य संचारी रोगों की रोकथाम और जन समुदाय को इसके प्रति जागरूक करना है। इसके माध्यम से वेक्टर रोग नियंत्रण, साफ-सफाई, कचरा निस्तारण, जल भराव रोकने, शुद्ध पेयजल एवं स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरूक किया जाएगा। अभियान में स्वास्थ्य विभाग नोडल विभाग के रूप में काम कर रहा है और अन्य सभी विभाग मिलकर काम करेंगे। ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता समिति की बैठक कर कार्यक्रम के बारे में लोगों को विस्तार से बताएंगे। ग्राम स्तर पर प्रभात फेरी, ग्रामवासियोँ के साथ साथ साफ सफाई की प्रतिज्ञा, गांव में छोटी-छोटी बैठकें कर लोगों को संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम के बारे में बताने का काम पंचायती राज विभाग का होगा। शिक्षा विभाग द्वारा स्कूल के बच्चों को जागरूक किया।

अभियान में कई विभाग करेंगे सहयोग

……….

विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान को सफल बनाने के लिए जिले के तमाम विभागों की सामूहिक भागीदारी तय की गई है। इसमें चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, नगर विकास विभाग, पंचायती राज विभाग, ग्राम्य विकास विभाग, पशु पालन विभाग, बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग,शिक्षा विभाग, कृषि एवं सिचाई विभाग, दिव्यांग जन सशक्तीकरण विभाग, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग प्रमुख हैं। साथ ही स्वास्थ्य विभाग को नोडल विभाग बनाकर सभी विभागों को उनकी ज़िम्मेदारी भी सौंपी गई है।

Total Page Visits: 32 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *