समाजवादी कार्यकर्ता द्वारा क्षेत्र की जनता से मिलने के लिए निकलना भारी पड़ गया।

Uncategorized खबरें

दिलीप मिश्रा

सलोन रायबरेली। समाजवादी कार्यकर्ता द्वारा क्षेत्र की जनता से मिलने के लिए निकलना भारी पड़ गया। पुलिस द्वारा गाड़ियों को पकड़ कर उनके झंडे को बाहर निकाल दिया गया।साथ ही उन्हें क्षेत्र भ्रमण पर जाने से रोक दिया गया। घंटों बहस के बाद प्रशासन ने सिर्फ 2 गाड़ियों से निकलने के लिए कहा लेकिन इसके बावजूद भी समाजवादी कार्यकर्ताओं के पीछे पहरेदारी में पुलिस की गाड़ियां दौड़ती रही।
सलोन विधानसभा के पूर्व कांग्रेसी नेता चौधरी सुरेश निर्मल जल्द ही समाजवादी पार्टी में शामिल हुए थे। पार्टी में शामिल होने के बाद पहली बार सलोन विधानसभा में पार्टी कार्यकर्ताओं व क्षेत्र की जनता से रूबरू होने लगभग आधा दर्जन गाड़ियों में झंडे लगाकर निकले ही थे कि सलोन भारतीय स्टेट बैंक के सामने सूचना पर पहुंचे कोतवाली प्रभारी ने गाड़ियों को रोक लिया। घंटों सपा कार्यकर्ताओं व कोतवाली प्रभारी के बीच तनाव बना रहा। व बहस होती रही। जिसके बाद मौके पर पहुंची उपजिलाधिकारी दिव्या ओझा ने केवल 2 गाड़ियों के साथ क्षेत्र में घूमने की अनुमति दी।चौधरी सुरेश निर्मल ने बताया की प्रदेश की योगी सरकार की नाकामयाबी इसी से जाहिर होती है कि समाजवादी कार्यकर्ताओं को जनता से मिलने नहीं दिया जा रहा है।योगी सरकार डरी सहमी हुई है जिससे वह पुलिस को आगे करके डराना चाहती है।लेकिन हम समाजवादी कार्यकर्ता है। किसी से डरने वाले नहीं हैं सत्य की लड़ाई पर हमेशा आगे बढ़ते रहेंगे उसके लिए चाहे उन्हें जेल ही क्यों ना जाना पड़े।उप जिलाधिकारी दिव्या ओझा ने बताया की कोरोना महामारी को देखते हुए रैली निकालने के लिए रोका गया है कोविड-19 के नियमों के पालन करने के निर्देश दिए गए हैं।

Total Page Visits: 116 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *