विंजिलेंस टीम ने लेखपाल को पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथो किया गिरफ्तार

Uncategorized

मुकेश कुमार

लेखपाल ने जमीन की वरा सत के एवज में ली थी रिश्वत

एंटी करप सन टीम ने पकड़ कर किया पुलिस के हवाले

सरोजनीनगर-लखनऊ सरोजनीनगर तहसील के एक लेखपाल को विजिलेंस टीम ने 5 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए मंगलवार को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। लेखपाल जमीन की वरासत दर्ज करने के एवज में यह रिश्वत ले रहा था। फिलहाल एंटी करप्शन टीम ने उसे गिरफ्तार कर पुलिस के हवाले कर दिया है। जहां उससे पूछताछ की जा रही है। सरोजनीनगर के रामचौरा गांव निवासी संतराम साहू के मुताबिक उसके गांव में मौजूद उसकी जमीन उसके बाबा कुशहर के नाम राजस्व अभिलेखों में दर्ज है। कुशहर की करीब 15 वर्ष पहले मौत हो गई थी। जिसके बाद खतौनी में कुशहर के बेटे गंगा प्रसाद के नाम जमीन दर्ज होनी थी। लेकिन 2 साल पहले गंगा प्रसाद की भी मौत हो गई और खतौनी में गंगा प्रसाद का नाम नहीं चढ़ सका। इसको लेकर संतराम ने करीब साल भर पहले खतौनी में अपने पिता के नाम जमीन दर्ज कराने के लिए तहसील अधिकारियों से संपर्क किया। लेकिन अधिकारी उसे आए दिन टहलाते रहे। संतराम के मुताबिक करीब 2 माह पहले उसने अपने पिता स्व. गंगा प्रसाद के नाम जमीन की वरासत कराने के लिए प्राथना पत्र देते हुए क्षेत्रीय लेखपाल रमेश कुमार प्रजापति से संपर्क किया। लेकिन आरोप है कि लेखपाल रमेश कुमार प्रजापति कुछ दिन तो उससे टालमटोल करते रहा, लेकिन बाद में वरासत करने के एवज में संतराम से 15 हजार रुपये की मांग की। इस पर संतराम ने लेखपाल को 10 हजार रुपये देने की बात कही। मगर लेखपाल रमेश कुमार प्रजापति ने 15 हजार रुपये से कम रकम लेने से मना कर दिया। बाद में परेशान होकर पीड़ित संतराम ने 19 फरवरी को इसकी शिकायत विजिलेंस के लखनऊ स्थित कार्यालय में की। संतराम की इस शिकायत का संज्ञान लेते हुए विजिलेंस अधिकारी मंगलवार को सरोजनीनगर तहसील पहुंचे। जहां उन्होंने संतराम को 5 हजार रुपये पकड़ाते हुए यह रकम लेखपाल रमेश कुमार प्रजापति को देने को कहा। इस दौरान संतराम ने लेखपाल रमेश कुमार प्रजापति को फोन कर तहसील के बाहर मिलने की बात कहते हुए रकम देने को कहा। रुपयों की बात सुनते ही लेखपाल रमेश कुमार प्रजापति सरोजनीनगर तहसील के बाहर कार में बैठे संतराम के पास पहुंच गया। लेखपाल रमेश कुमार प्रजापति के पहुंचते ही संतराम ने जैसे 5 हजार रुपये की गड्डी लेखपाल रमेश कुमार प्रजापति को पकड़ाई। तभी मौके पर मौजूद एंटी करप्शन टीम ने लेखपाल को रंगे हाथों दबोच लिया। फिलहाल विजिलेंस टीम ने लेखपाल रमेश कुमार प्रजापति को गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ कर रही है।

Total Page Visits: 52 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *