बच्चों से काम कराते हुए ‘रोजगार सेवक’ की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल, जिम्मेदार मौन

Raebareli Uttar Pradesh

टी.पी.यादव

महराजगंज,रायबरेली। बीते 5 दिन पूर्व पखनपुर गांव में मनरेगा योजना क़े तहत खंडजे क़ी भराई में बच्चों से बाल श्रम कराए जाने क़े बाद कार्यवाही ना होने से मनबढ़ पंचायत मित्र क़ी फोटो बाल श्रमिको से कार्य करातें हुए सोशल मीडिया पर जम कर दौड़ रही। हद तो तब है जब विकास खंड में मनरेगा कार्यो क़ी निगरानी क़ो बनाए गए व्हाट्सएप ग्रूप में पंचायत मित्र द्वारा बाल श्रम किए जाने क़ी फोटो भेज उच्चाधिकारियों क़ो खुली चुनौती दी जा रही। किन्तु सेटिंग गेटिंग क़े चलते खंड विकास अधिकारी कार्यवाही क़े बजाए अपनी फजीहत से खुद बाज नही आ रहे।
बताते चले क़ी बीते दिनो पखनपुर गांव में मनरेगा से चल रहे अटरा से बालापुर माइनर में मनरेगा योजना से चल रहे खंडजा भराई में बाल श्रमिको से कार्य कराए जाने का प्रकरण चर्चा में है। जिस पर सीडीओ अभिषेक गोयल क़े सख्त निर्देश के बावजूद बीडीओ प्रवीण कुमार द्वारा दोषियों पर कार्यवाही क़े बजाए, बचाने का भरकस प्रयास किया जा रहा। इधर पखनपुर गांव क़ी मनबढ़ पंचायत मित्र शशि देवी द्वारा मनरेगा कार्य क़ी निगरानी क़ो विकासखंड क़े उच्चाधिकारियों द्वारा बनाए गए व्हाट्सएप ग्रूप ”डेवलेपमेंट महराजगंज” पर अटरा गांव से बाला माइनर खड़ंजा भराई करते 8 व 9 फरवरी क़ो बाल श्रमिकों द्वारा कार्य करते हुए फोटो अपडेट क़ी गयी। मालूम हो क़ी यह खड़ंजा भराई का कार्य पिछले 20 दिनो से किया जा रहा। वही 17 फरवरी क़ो मनरेगा से हो रहे कार्य में 7 में से 6 बच्चे बाल श्रम करते पाए गए, नाबालिग बच्चों से कार्य कराए जाने क़ी चर्चा विभिन्न अखबारों में होने क़े बाद पंचायत मित्र शशि देवी द्वारा ब्लाक ग्रूप पर नाबालिगों क़ी फोटो डाले जाने क़ी पोस्ट सोशल मीडिया में जम कर वायरल हो गयी। किन्तु भष्ट्र बीडीओ प्रवीण कुमार द्वारा इस ओर गौर करना मुनासिब नही समझा गया। जिसके चलते बाल श्रम कानून का उल्लंघन करते हुए पखनपुर गांव में मनरेगा कार्य में बाल श्रम बदस्तूर जारी है। मामले में सीडीओ अभिषेक गोयल से बात करने का प्रयास किया गया किन्तु फोन नही उठा।
फोटो- बच्चो से मनरेगा क़े तहत बाल श्रम कराती पंचायत मित्र!

Total Page Visits: 18 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *