13 वर्ष पहले हत्या के गिरोह में शामिल प्रचलित गिरोहबंद हिस्ट्रीशीटर को नगराम पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

Lucknow Uttar Pradesh

गिरफ्तार किए गए अभियुक्त पर धोखाधड़ी गैंगस्टर जैसे कई संगीन अपराधिक मामले पंजीकृत हैं

प्रमोद राही

नगराम लखनऊ।नगराम पुलिस ने रविवार को तेरह वर्षों से फरार चल रहे क्षेत्र के प्रचलित गिरोहबंद हिस्ट्रीशीटर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। नगराम इंस्पेक्टर मोहम्मद अशरफ ने बताया कि शनिवार की रात को करीब बारह बजे क्षेत्र के प्रचलित गिरोह बंद हिस्ट्रीशीटर महेंद्र उर्फ प्रमोद पुत्र चंद्रभूषण निवासी हसनपुर थाना नगराम को पुलिस टीम द्वारा घेराबंदी कर दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया गया है।गिरफ्तार किए गए अभियुक्त के खिलाफ नगराम थाने में लूटपाट धोखाधड़ी गैंगस्टर हत्या करने के गिरोह में शामिल जैसे कूट रचित दस्तावेजों को तैयार कर धोखाधड़ी करके निजी स्वार्थ पूर्ति हेतु अनैतिक रूप से संपत्ति अर्जित कर जमीन को हड़पने के संगीन मामले पंजीकृत है। गिरफ्तार किये गया अभियुक्त द्वारा 2007 में कृपाशंकर पुत्र शिव दुलारे उम्र 35 वर्ष निवासी हसनपुर सहभागियों के साथ मिलकर हत्या की गई थी जिसमें यह अभियुक्त शामिल था। रविवार को पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर के आदेशानुसार गैंगेस्टर गिरोह बंद अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु चलाए जा रहे सघन चेकिंग अभियान के तहत शनिवार की रात बारह बजे नगराम थाना प्रभारी मोहम्मद अशरफ के कुशल नेतृत्व में पुलिस टीम हेड कांस्टेबल जंग बहादुर सत्यदेव मोहम्मद याकूब अंबिकेश तिवारी श्रवण कुमार द्वारा घेराबंदी कर दबिश देकर क्षेत्र के प्रचलित गिरोह बंद हिस्ट्रीशीटर महेंद्र उर्फ प्रमोद पुत्र चंद्रभूषण निवासी ग्राम हसनपुर थाना नगराम को गिरफ्तार कर गैंगेस्टर अधिनियम के तहत कार्यवाही करते हुए जेल भेज दिया है। गिरफ्तार किए गए अभियुक्त द्वारा तेरह साल पहले 20/3/2007 को कृपा शंकर पुत्र शिव दुलारे उम्र 35 वर्ष निवासी हसनपुर नगराम लखनऊ की सहअभियुक्तों के साथ मिलकर निर्शंक हत्या की गई थी। जिसकी हिस्ट्रीशीटर संख्या 64 A है। इसके पहले भी अभियुक्त के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट में कार्यवाही की गई थी।गिरफ्तार किए गए अभियुक्त महेंद्र उर्फ प्रमोद द्वारा अपने सहअभियुक्तों के साथ मिलकर कूट रचित दस्तावेज तैयार कर धोखाधड़ी करके निजी स्वार्थ पूर्ति हेतु व अनैतिक रूप से संपत्ति अर्जित करने हेतु सुसंगठित गिरोह बनाकर जमीन का फर्जी बैनामा कराने के अपराध में शामिल था। जिसके खिलाफ वर्तमान में मोहनलालगंज कोतवाली में गैंगस्टर एक्ट का अभियोग पंजीकृत है। नगराम इंस्पेक्टर मोहम्मद अशरफ के अनुसार गिरफ्तार किए गए अभियुक्त महेंद्र उर्फ प्रमोद को गिरफ्तार कर गैंगेस्टर अधिनियम के तहत कार्यवाही करते हुए जेल भेज दिया गया है।

Total Page Visits: 113 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *