कोविड टीकाकरण आज समय से पहुंचे : सीएमओ

Uttar Pradesh बुलन्दशहर

बुलंदशहर। जनपद में शुक्रवार (आज) कोविड -19 टीकाकरण हो रहा है। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ भवतोष शंखधर ने पंजीकृत समस्त स्वास्थ्य अधिकारियों और कर्मचारियों से अपील की है कि वह टीकाकरण केंद्र पर समय से पहुंचें और जिले में टीकाकरण अभियान को शत प्रतिशत सफल बनाएँ।सीएमओ डॉ भवतोष शंखधर ने बताया कि कोविड -19 टीकाकरण शुक्रवार को सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक किया जा रहा है। इसमें स्वास्थ्य अधिकारियों और कर्मचारियों को कोविड -19 टीका से प्रतिरक्षित किया जाएगा। उन्होने कहा कि कोविन पोर्टल पर पंजीकृत सभी लोग आज टीकाकरण केंद्र पर समय से पहुंचे। क्योंकि टीका की एक शीशी से 10 लोगों को डोज़ होत है। शीशी खुलने के बाद एक नियत समय तक ही उसको उपयोग में ला सकते हैं। उन्होने स्पष्ट कि कोविड – 19 का यह टीका सबसे सुरक्षित टीका है। यह शरीर पर किसी तरह का प्रतिकूल प्रभाव नहीं छोड़ता है। उन्होने बताया कि शुक्रवार को जिले में 16 केन्द्रों पर 30 सत्र आयोजित किए जा रहे हैं। 16 जनवरी को जिन लोगों को प्रतिरक्षित किया गया है। उनका अगला डोज 15 फरवरी निर्धारित है। कोरोना का टीका लगने के बाद यदि तबीयत न लगना, थकान महसूस होना, कंपकंपी या बुखार सा महसूस होना, सिर दर्द, मतली, जोड़ो या मांसपेशियों में दर्द की समस्या आ रही है तो इसका मतलब यह टीका शरीर पर असर कर रहा है।

जिले के सीएमओ डॉ भवतोष शंखधर ने बताया कि मैंने 16 जनवरी को कोरोना का टीका लगवाया था। तब से लेकर आज तक मुझे कोई परेशानी नहीं हुई है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डिबाई के प्रभारी डॉ. हेमंत ग्रिरी ने बताया उन्होंने 16 जनवरी को टीकाकरण शुभारंभ के मौके पर अपने टीका लगवाया है। कोरोना टीका लगवाने के बाद वह स्वस्थ्य हैं, उन्होंने टीका लगवाने के बाद से अभी तक किसी तरह की कोई परेशानी नही हुई है।

96 % तक हुआ टीकाकरण

16 जनवरी यानि कोविड टीकाकरण के पहले दिन बागपत में 95.65 % , गाजियाबाद में 94.75 % , अमरोहा में 92.75 %, कौशंबी में 90.50 % और हरदोई में 90.33 लोगों को प्रतिरक्षित किया गया जबकि प्रदेश स्तर यह औसत 71.43 प्रतिशत रहा है।

टीका लगवाने से पहले दें पूरी जानकारी

टीका लगवाने से पूर्व यदि एलर्जी, बुखार, रक्त बहने या रक्त पतला करने की कोई दवा ले रहे हैं, या प्रतिरक्षा क्षमता कम है तो संबंधित स्वास्थ्य अधिकारी को जानकारी दें। गर्भवती या स्तनपान करा रही महिलाओं को भी टीका लेने से पहले स्वास्थ्य अधिकारी पूरी जानकार देनी चाहिए। सीरम इंस्टीट्यूट की फैक्टशीट के अनुसार कोविशील्ड टीका 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए है। यह टीका उन लोगों को नहीं लगना है जिन्हें पहली खुराक के बाद गंभीर रूप से एलर्जी हुई हो। इसके लिए चिकित्सक से परामर्श लें। कोविशील्ड से जुड़े प्रतिकूल प्रभाओं को लेकर सामान्य तौर पर तबीयत न लगना, थकान महसूस होना, कंपकंपी या बुखार सा महसूस होना, सिर दर्द, मतली, जोड़ो या मांसपेशियों में दर्द की शिकायत आम हो सकती है। वैक्सीन लगने के बाद कुछ घंटों में यदि कोई साइड इफेक्ट दिखता है तो इस बारे में वैक्सीन लगाने वाले को या टोल फ्री नंबर 7839791647 पर तत्काल जानकारी दें।

Total Page Visits: 31 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *