किसानों को ठगने के नए नए फार्मूले निकाल रहे एसएमआई

Raebareli Uttar Pradesh

राइस मिलरो से साठ गांठ कर कर रहे मोटी कमाई

41 कुंटल धान में काटा 15 कुंटल फरहा

● मामला तूल पकड़ा तो किसान को दिया पूरी तौल

टी.पी.यादव

महराजगंज ,रायबरेली। लगातार अखबारों की सुर्खियों में छाए महराजगंज एस एम आई पर अधिकारियों की मेहरबानी समझ से परे है, मन बढ़ एस एम आई अपनी जेबे भरने के लिए नए-नए नुस्खे अपना रहे हैं जिसका एक ताजा मामला प्रकाश में आया है जिसमें राइस मिलर एवं एस एम आई की सेटिंग सेटिंग के चलते किसान के 41 कुंटल धान में 15 कुंटल फरहा काट दिया जिसकी चर्चा से पूरा क्षेत्र गरम रहा वही पीड़ित किसान ने उपजिलाधिकारी से मिलकर शपथ पत्र सहित एस एम आई एवं राइस मिलर के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है एसडीएम विनय मिश्रा ने मामले को गंभीरता से लेते हुए नायब तहसीलदार को जांच के निर्देश दिए हैं नायब तहसीलदार के पहुंचते ही एस एम आई ने किसान को पूरी तौल देकर मामले को रफा दफा कर दिया,मालूम हो कि बीते माह से लगातार अखबारों की सुर्खियों में रहने वाले एसएम आई अपनी कार्यशैली में कोई सुधार लाना तो दूर की बात मोटी कमाई के नए-नए तरीके निकाल रहे हैं,
मालूम हो कि सोमवार को पाराकला के किसान जगजीवन ने बताया कि मेरा टोकन दो माह पहले 7 जनवरी को दिया गया था जब मैं धान मंडी लाना चाहा तब एसएम आई चंद्र केश यादव ने बताया कि भीड़ ज्यादा है आप 12 जनवरी को लाइये मैं 12 जनवरी को धान लेकर मंडी पहुँचा तो उन्होंने तौल करने से दो दिन आना कानी करते करते 14 जनवरी को मुझे सिकंदर पुर राइस मिल भेज दिया, जहां 15 तारीख को मेरा धान तो तौल लिया गया लेकिन जब दूसरे दिन कागज मिला तो 14 कुंतल 60 किलो काट कर 26 कुंतल 40 किलो की रसीद थमा दी। जबकि मेरा धान मानक के अनुरूप था व मजदूरों द्वारा कांटा व पीटा गया था , मामले की शिकायत एसएम आई चंद्र केश यादव से की गई तो
उन्होंने मुझे डांट कर भगा दिया और कहा कि जहाँ तुम्हे जाना है वहाँ जाओ जिससे शिकायत करनी है उससे करो कुछ नही होने वाला। परेशान किसान उपजिलाधिकारी विनय मिश्रा को शपथ पत्र सहित शिकायत कर अपने धान की सही तौल व वाजिब मूल्य दिलाने की मांग की, मामले में उपजिलाधिकारी के निर्देश पर पहुंचे नायब तहसीलदार को देखते ही एस एम आई चंद्रकेश यादव ने किसान की पूरी तौल को स्वीकार कर अपना दामन छुड़ा लिया,

कौन करेगा 14 कुंटल 60 किलो धान की भरपाई


एस एम आई व राइस मिलर की सांठगांठ का मामला उजागर होने और तूल पकड़ने पर एस एम आई चंद्रकेश यादव ने किसान की पूरी तौल का वादा करते हुए उसकी पूरी तौल कागजों पर चढ़ा दी अब सवाल यह उठता है कि मामले में हुई 14 कुंतल 60 किलो की हेरा फेरी की भरपाई कर एस एम आई ने अपना दामन तो बचा लिया लेकिन ऐसी हेरा फेरी कितने किसानों के साथ हुई और कितना घोटाला हुआ इसका जवाब कौन देगा, क्या जिम्मेदार अधिकारी किसान की पूरी तौल मिल जाने के बाद मामले को ठंडे बस्ते में डाल देंगे या और किसानों के साथ धोखाधड़ी या लूट ना हो इसका कोई ठोस उपाय भी करेंगे

Total Page Visits: 65 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *