किसान कल्याण मिशन कार्यक्रम का मुख्यमंत्री ने किया उद्घाटन

Lucknow Uttar Pradesh

● प्रदेश में 303 ब्लाकों में एक साथ की गई किसान कल्याण मिशन योजना की शुरुवात

● सत्तर सालो के इतिहास में पहली बार सरकार कृषि यंत्रों की खरीद पर दे रही अस्सी प्रतिशत अनुदान

मुकेश रावत

सरोजनीनगर,रायबरेली। लखनऊ ।किसान कल्याण मिशन कार्यक्रम की शुरुआत बुधवार को राजधानी के सरोजनी नगर की ग्राम पंचायत दादूपुर में किया गया। जिसके मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ थे और कार्यक्रम के तहत दादूपुर गांव पहुंचे और किसान कल्याण मेले में लगे स्टालों का भी निरीक्षण किया । कृषि कल्याण मिशन कार्यक्रम के तहत 303 ब्लॉकों में बुधवार से शुरू किया गया ।यह योजना 6 जनवरी से प्रारंभ होकर 21 जनवरी तक चलेगी ।आगामी 13 जनवरी को 303 विकास खंडों में व 21 जनवरी को 219 विकास खंडों में आयोजन किया जाएगा। इस योजना का प्रमुख उद्देश्य कृषि कार्यों से संबंधित सरकार द्वारा चलाई जा रही परियोजनाओं के बारे में एक ही स्थान पर जानकारी उपलब्ध कराना है। इस कार्यक्रम में उन्नतशील किसानों का सम्मान भी किया गया व दूसरे किसानों को भी और अधिक अच्छी तकनीकी से खेती कर सकें। इसके लिए प्रेरित किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित मोहनलालगंज लोकसभा सांसद कौशल किशोर ने कहा कि हमारी सरकार किसानों के खातों में किसान सम्मान निधि के रूप में सीधे उनके खातों में पैसे ट्रांसफर कर रही है। दो करोड़ से ज्यादा किसान , किसान सम्मान निधि योजना से लाभान्वित हो रहे हैं। हमारी सरकार भूमिहीन किसानों को पशुपालन के लिए ₹200000 का क्रेडिट कार्ड बनवा कर उन्हें अपने पैरों पर खड़ा होने का सहारा दिया है। साथ ही साथ जो श्रमिक भाई रजिस्टर्ड है । उनके दो पुत्रियों की शादी के लिए 55 ₹55000 सरकार मुहैया करवा रही है।इस मौके पर सरोजनी नगर विधायिका एवं स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री स्वाति सिंह ने कहा कि मिशन शक्ति के तहत महिला स्वयं सहायता समूहों को इस योजना से जोड़ा गया है। जिससे महिला स्वयं सहायता समूह सशक्त हो का परिणाम है कि बुधवार को सरोजनी नगर की कई महिला स्वयं सहायता समूह बढ़ चढ़कर कार्य कर रही हैं और अपने तथा अपने परिवार को आत्म निर्भरता की ओर ले जाने में अग्रसर हैं।इस मौके पर जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ने कहा कि सरकार वर्षों से लंबित सिंचाई की परियोजनाओं को पूर्ण कर के किसानों को टेल तक पानी पहुंचाने का कार्य कर रही है। हमने 2500000 हेक्टेयर भूमि सिंचित करने का कार्य किया है। अभी तक उत्तर प्रदेश में 135 लाख हेक्टेयर भूमि पर खेती होती थी। जिसे आगामी वर्षों में बढ़ाकर 160 लाख हेक्टेयर भूमि पर खेती करवाई जाएगी। प्रधानमंत्री ने जो 2022 में किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प लिया है। उसे हमारी सरकार पूरा करने के लिए संकल्पित है।इस मौके पर कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि पहली बार उन्नत किसान आत्मनिर्भर देश का नारा जो प्रधानमंत्री मोदी ने दिया है। उसे हमारी सरकार पूरा करने के लिए जुटी हुई है । किसानों को लाभकारी योजनाओं की जानकारी देने के लिए किसान कल्याण मेले का आयोजन किया गया है। जिसमें कृषि से संबंधित सभी परियोजनाओं की जानकारी किसानों को एक ही मंच पर मिल सके।
70 सालों के इतिहास में पहली बार हमारी सरकार कृषि यंत्रों की खरीद पर 80% अनुदान दे रही है। सिंचाई के संसाधनों को भी बढ़ाया गया है।

किसान कल्याण मिशन का प्रमुख उद्देश्य

एक ही परिसर में कृषि से जुड़ी हुई सभी परियोजनाओं की जानकारी किसानो को उपलब्ध कराना है । इसके तहत बुधवार को प्रदेश में 303 विकास खंडों में एक साथ किसान कल्याण मिशन की शुरुआत की गई। सरोजनी नगर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम दादूपुर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा किसान कल्याण मिशन का शुभारंभ किया गया । इस अवसर पर उन्नतशील किसानों को सम्मानित करने के साथ ही कई स्वयं सहायता समूहों को ऋण के रूप में चेक भी वितरित की गई। इस मौके पर कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ,जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ,बाल विकास एवम् पुष्टाहार राज्य मंत्री स्वाति सिंह , राज्य मंत्री दर्ज़ा प्राप्त वीरेंद्र कुमार तिवारी ,सांसद कौशल किशोर ,अपर सचिव सूचना नवनीत सहगल सहित तमाम भाजपा के पदाधिकारियों के साथ ही प्रशासनिक अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे ।

Total Page Visits: 62 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *