सिपाही को मां की तेरहवीं में जाने की नहीं मिली छुट्टी, दी आत्महत्या की धमकी

Lucknow Uttar Pradesh

प्रमोद राही

लखनऊ।लखनऊ के कृष्णानगर थाने की डायल-112 पर तैनात सिपाही जयप्रकाश सरोज को अपनी मां की तेरहवीं में जाने के लिए छुट्टी नहीं मिल रही थी. इसको लेकर उस सिपाही ने सोशल मीडिया पर अपना एक वीडियो वायरल किया. जिसमें उसने छुट्टी न मिलने के कारण आत्महत्या करने की बात कही. सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होते ही सिपाही को पुलिस कमिश्नर द्वारा छुट्टी दी गई.
राजधानी के कृष्णानगर थाने की डायल-112 पर तैनात सिपाही जयप्रकाश सरोज नामक सिपाही को अपनी मां की तेरहवीं में जाने के लिए छुट्टी नहीं मिल रही थी. इसको लेकर वह बड़े अफसरों के चक्कर काट-काट कर थक गया. इसके बाद उस सिपाही ने सोशल मीडिया पर अपना एक वीडियो वायरल किया. जिसमें उसने छुट्टी न मिलने के कारण आत्महत्या करने की बात कही. सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. इसके बाद आनन-फानन में उस सिपाही को पुलिस कमिश्नर द्वारा छुट्टी दी गई.छुट्टी न मिलने से नाराज सिपाही ने आत्महत्या की दी धमकीवीडियो वायरल करके दी आत्महत्या की धमकी
जय प्रकाश सरोज नामक सिपाही कृष्णानगर थाने की डायल-112 पर तैनात है. उसका कहना है कि कोविड-19 जैसी खतरनाक बीमारी में भी अपनी जान की परवाह न करते हुए लगातार ड्यूटी पर मुस्तैद रहे. लेकिन जब उसके घर में उसकी मां की तेरहवीं है, तो उसके लिए उसको छुट्टी नहीं मिल रही है. छुट्टी न मिलने से नाराज सिपाही जय प्रकाश सरोज ने कमिश्नर डीके ठाकुर पर भरोसा करते हुए मां की तेरहवीं में जाने के लिए छुट्टी लेने पहुंचा, लेकिन कमिश्नर ऑफिस पर तैनात दारोगा सतेंद्र ने उसको वंहा से भगा दिया. जय प्रकाश सरोज ने बताया कि अपनी ही मां की तेरहवीं में न पहुंच पाने के कारण वह अपने गांव में किसी को मुंह दिखाने लायक नहीं रह जाएंगे. जिसके कारण अपनी वीडियो वायरल करके आत्महत्या करने की बात कही थी.कमिश्नर ने लिया संज्ञान
पुलिस कमिश्नर के पीआरओ का कहना है कि सोशल मीडिया पर एक सिपाही की वीडियो वायरल हुआ है, जिसको कमिश्नर लखनऊ डीके ठाकुर ने संज्ञान लिया है. जिसके बाद ही उस सिपाही को पुलिस कमिश्नर ऑफिस बुलाया गया. साथ ही उसकी समस्या को सुनते ही जय प्रकाश सरोज नामक सिपाही को 30 दिनों का अवकाश दिया गया है

Total Page Visits: 228 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *