जिला कृषि अधिकारी व एसडीएम ने चौपाल लगाकर किसानों को किया जागरूक

Raebareli Uttar Pradesh

● फसल अवशेष जलाना दण्डनीय अपराध, पुआल जलाने वालों पर होगी कार्रवाई

● फसल अवशेष जलाएं नही, कंपोस्ट खाद बनाएं

रायबरेली। जिला कृषि अधिकारी रवी चंद्र प्रकाश, महराजगंज एसडीएम विनय कुमार मिश्रा ने पराली न जलाने को लेकर शिवगढ़ क्षेत्र के राजकीय विद्यालय ओसाह में चौपाल लगाकर ग्राम पंचायत ओसाह,नरायनपुर,गोविंदपुर के किसानों को जागरूक किया। किसानों को जागरूक करते हुए जिला कृषि अधिकारी रवी चंद्र प्रकाश ने कहा कि खेतों में पराली जलाने से उठने वाला धुआं हवा में घुलकर पर्यावरण को दूषित कर देता है। वहीं खेतों में मौजूद फसल के लिए लाभदायक जीवाणु नष्ट हो जाते हैं। इसलिए पराली को जलाएं नही, हैरो से खेत में जुताई कर दें। अथवा मनरेगा योजना अंतर्गत गड्ढा खुदवाकर पुआल एवं फसलों के अवशेष से कंपोस्ट खाद बना ले।

इस प्रकार से कंपोस्ट खाद के प्रयोग से जहां फसल उत्पादन लागत काम आएगी वहीं मिट्टी की उर्वरा उर्वरा शक्ति अच्छी होगी। वहीं एसडीएम विनय कुमार मिश्रा ने किसानों को जागरूक करते हुए कहा कि पुआल अथवा फसल अवशेष जलाना दण्डनीय अपराध है। फसलों का अवशेष जलाने पर कृषि भूमि 2 एकड़ से कम होने पर 2500 रुपए अर्थदंड का प्राविधान है। वहीं 2 एकड़ से 5 एकड़ तक की दशा में 5000 रुपए अर्थदंड एवं 5 एकड़ से अधिक कृषि भूमि होने पर 15000 रुपए के अर्थदंड का प्राविधान है। इसके साथ ही दो बार फसल अवशेष जलाने के मामले आने पर किसान को मिलने वाली सभी सरकारी सुविधाओं पर रोक लगा दी जाएगी। फसलों की कटाई के लिए कम्बाईन मशीन के साथ ही स्ट्रा रीपर या रीपर कम्बाइंडर का प्रयोग करें जिससे खेतों में फसल अवशेष न बचे और खेतों की जुताई करने में किसी प्रकार की समस्या ना हो। एसडीएम ने कहा कि बिना रीपर मशीन के कंबाइन मशीन का प्रयोग करने पर सिविल दायित्व के निर्धारण का प्राविधान है। इसलिए फसलों का अवशेष किसी भी हाल में ना जलाएं बल्कि खेत में ही उसे काटकर अथवा गड्ढे में डालकर खाद बनाएं, जिसके लिए नि:शुल्क डी कंपोजर दिया जाएगा। इस मौके पर नायब तहसीलदार, शिवगढ़ थानाध्यक्ष धीरेंद्र कुमार यादव, एडीओ पंचायत जितेंद्र बहादुर सिंह, एडीओ कोऑपरेटिव अभिषेक सिंह, बीटीएम ओम प्रकाश, एटीएम अखिलेश प्रताप सिंह, अंशू वर्मा,हल्का
लेखपाल महेंद्र सोनकर, ग्राम पंचायत अधिकारी अरुण कुमार गौतम, प्रधान प्रतिनिधि राकेश त्रिवेदी उर्फ आलू महराज, संजय मोहन त्रिवेदी, मनोज कुमार त्रिवेदी, रामसागर त्रिवेदी, मुस्ताक अहमद आदि लोग मौजूद रहे।

Total Page Visits: 145 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *