जिम्मेदार लगा रहे स्वच्छ भारत अभियान को पलीता, गांवों में गंदगी का अंबार

Raebareli Uttar Pradesh लापरवाही

● कागजोंं पर हो रही सफाई, सफाई कर्मी काट रहे मलाई

मुस्तकीम अहमद

नसीराबाद,रायबरेली। स्वच्छ भारत मिशन का सपना लेकर केन्द्र व प्रदेश में काबिज भाजपा सरकार के शासनकाल में गांवों की सफाई व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है।जहां शासन द्वारा प्रत्येक गांवों में सफाई कार्य के लिए सफाई कर्मचारी तैनात किये गये हैं,ताकि गांवों में निरंतर सफाई हो सके,वहीं उनके निगरानी के लिए ब्लॉक के जिम्मेदार अधिकारियों का पहरा भी लगा लगा दिया गया लेकिन इन सबके बावजूद भी गांव में सफाई व्यवस्था दम तोड़ रही है। आज आलम यह भी है कि गाँवो मे तैनात सफाई कर्मी गांवों तक ना पहुंच कर ग्राम प्रधानों एवं ब्लॉक कार्यालय की चौखट पर माथा टेकते हुये देखे जा सकते हैं और मातहेत सिर्फ कागजी कोरम को पूरा करते हुये तनख्वाह उठा कर मौज कर रहें है।जिससे गांवों में लगे कूड़े कचरे के ढेर को ग्रामीण स्वयं साफ सफाई करने को विवश है। बतातें चलें कि विकास खंड छतोह के ग्राम सभा कुढा ,परैया नमकसार , पूरे राई ,संन्डहा, बेढौना ,कांटा ,भेलिया ,छतोह ,आदि ग्राम पंचायतों में जगह जगह कूड़े कचरे का ढेर लगा हुआ हैं। लेकिन उसकी सफाई नही हो रही है।वहीं ग्रामीणों ने बताया कि सफाई को लेकर कई बार ब्लॉक के जिम्मेदार अधिकारियों से शिकायत की गयी।लेकिन शिकायत का कोई असर नही हो रहा है।गांव में सफाई कर्मचारी कौन है। ये जानकारी नहीं है। सप्ताह मे एक दिन खुद घर के सामने बनी नाली की सफाई करता हूँ गांव मे सफाई नहीं होती है।जिससे कि सफाईकर्मी की तैनाती होने या नही होने से कोई फर्क नही पड़ता है। सफाईकर्मी ब्लाक में प्रधानों के चौखट पर हाजिरी लगा कर सिर्फ कागजी कोरम को पूरा कर सफाई कर रहे है। सफाईकर्मी की उपस्थित सिर्फ अफसर के रजिस्टरों में है।धरातल पर गावों की सफाई एकदम सून्य है। विकास खंड छतोह की बीडीओ ऋचा सिंह का कहना है कि अगर किसी भी गांव से सफाई या अन्य किसी भी समस्या की शिकायत मिली तो जांघ उपरांत कार्यवाही होगी।

Total Page Visits: 201 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *