स्कूल्स मैनेजर एसोसिएशन ने विद्यालय वाहनों की बैंक ईएमआई समस्या को लेकर ज्ञापन सौंपा

Raebareli Uttar Pradesh


धैर्य शुक्ला

रायबरेली। बैंकों एवं वित्तीय संस्थानों से ऋण पर क्रय किए गए वाहनों की ईएमआई समस्या को लेकर रायबरेली स्कूल्स मैनेजर एसोसिएशन ने अपर जिला अधिकारी (वित्त एवं राजस्व) श्री प्रेम प्रकाश उपाध्याय से वार्ता किया। एसोसिएशन के द्वारा भारत के प्रधानमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन पत्र भी सौंपा गया। ज्ञापन के द्वारा यह मांग की गई कि कोरोना महामारी के कारण विद्यालयों के न खुलने से निजी विद्यालयों के सामने गंभीर समस्या उत्पन्न हो रही है। इस अवसर पर एसोसिएशन के अध्यक्ष गौरव सिंह ने कहा कि वाहनों की बैंक ईएमआई जमा करने की समय सीमा में छूट प्रदान की जाए। अध्यक्ष गौरव सिंह ने कहा कि जहां कोरोना काल में लगभग सभी क्षेत्रों में आम लोगों को अनेकों दिक्कतों का सामना करना पड़ा है वहीं मार्च से निरंतर स्कूल बंद रहने से स्कूल संचालकों के समक्ष शिक्षकों की सैलरी के साथ-साथ ऋण पर क्रय किए गए स्कूल वाहनों की ईएमआई जमा करने की गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है। एसोसिएशन के संरक्षक अरविन्द श्रीवास्तव, एडवोकेट ने कहा कि भारत सरकार के निर्देशों के अनुक्रम में अगस्त माह तक बैंक, स्कूल वाहनों की ईएमआई जमा करवाने के लिए दबाव नहीं बना रहे थे किंतु सितंबर माह से ही बैंकों ने स्कूल वाहनों की ईएमआई जमा करने के लिए अनेकों प्रकार से दबाव बनाना प्रारंभ कर दिया है जिससे निजी विद्यालयों को बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष शिवेंद्र श्रीवास्तव ने कहां की कोरोना महामारी के कारण सबसे अधिक शिक्षा प्रभावित हुई है, लगभग 6 माह से विद्यालयों के बंद होने से विद्यालय में कार्यरत शिक्षकों की सैलरी समय पर दे पाना भी मुश्किल हो रहा है। इस मौके पर महामंत्री प्रभात सिंह, उपाध्यक्ष मोहित श्रीवास्तव, सचिव दीपक यादव, प्रबंधक संजय जयसवाल, जाकिर खान, अंकित श्रीवास्तव, डॉ. प्रदीप श्रीवास्तव, विपिन यादव, नीरज त्रिवेदी, सतीश बाजपेई, वीरेन्द्र कुमार,शिव बहादुर, विनीत जगधारी, गौरव श्रीवास्तव सहित अनेकों प्रबंधक उपस्थित रहे।

Total Page Visits: 38 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *