हादसों से सबक नहीं ले रहा लोक निर्माण विभाग, आए दिन हो रही दुर्घटनाएं

Raebareli Uttar Pradesh लापरवाही

● पिण्डौली ड्रेन की टूटी पुलिया दे रही मौत को दावत, जिम्मेदार मौन

● एंबुलेंस सहित बड़े वाहनों का आवागमन ठप

● जान हथेली पर लेकर गुजरते हैं राहगीर

● पीडब्लूडी विभाग की लापरवाही से दर्जनों लोग हो चुके हैं हादसे का शिकार

रायबरेली। शिवगढ़ क्षेत्र के भवानीगढ़ – बहुदा कला सम्पर्क मार्ग पर स्थित पिण्डौली ड्रेन की जर्जर पुलिया लगातार दुर्घटनाओं को दावत दे रही है। विडम्बना है कि ग्रामीणों की दर्जनों शिकायतों के बावजूद जिम्मेदार अधिकारी मौन हैं। गौरतलब हो कि भवानीगढ़ – बहुदा कला सम्पर्क मार्ग पर स्थित पिण्डौली ड्रेन की पुलिया करीब 10 माह पूर्व क्षतिग्रस्त हो गई थी। जिसके निर्माण के लिए बाईपास बनाया गया था। मजे की बात है कि रस्म अदायगी के लिए बनाया गया बाईपास पुलिया का निर्माण होने से पूर्व ही बरसात के पानी में बह गया। जिसके चलते बड़े वाहनों का आवागमन बिल्कुल ठप हो गया है वहीं राहगीर अपनी जान हथेली पर लेकर जर्जर पुलिया के ऊपर से गुजरते हैं।
पीडब्लूडी विभाग की लापरवाही के चलते बहुदा कला, वाजिदपुर, बहुदा खुर्द, लालगंज, पिण्डौली तक एंबुलेंस नही पहुंच पाती। मजबूरी में मरीजों मोटरसाइकिल अथवा छोटे वाहनों से अस्पताल तक ले जाना पड़ता है। ग्रामीणों ने बताया कि भवानीगढ़ – बहुदा कला सम्पर्क मार्ग रायबरेली को सीधे नगराम, लखनऊ और बाराबंकी मुख्यालय को जाता है जिसके चलते इस सम्पर्क मार्ग से दिन भर राहगीरों का आवागमन रहता है। विदित हो कि हाल ही में बीते 16 सितम्बर को बेड़ारु गांव का रहने वाला एक युवक बाइक सहित टूटी पुलिया से नीचे गिर गए नाले में चला गया था, जिसकी हालत नाजुक बनी हुई है। हादसों के बाद जिम्मेदार अधिकारी सबक लेना मुनासिब नही समझ रहे हैं। पीडब्लूडी विभाग के अधिकारियों की उदासीनता का दंश झेल रहे ग्रामीणों में पीडब्लूडी विभाग के प्रति गहरा रोष व्याप्त है। इस बाबत जब पीडब्लूडी विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों से बात की गई तो उन्होंने बताया कि बरसात के चलते पुलिया का निर्माण शुरू नहीं हो पाया था। एक सप्ताह के अन्दर पुलिया का निर्माण शुरू हो जाएगा।

Total Page Visits: 129 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *