अटारी-वाघा बॉर्डर पर, ‘नहीं मनाई ईद’

Featured National Uttar Pradesh

जम्मू और कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से किए जा रहे लगातार संघर्ष विराम उल्लंघन के मद्देनजर अटारी-वाघा बॉर्डर पर ईद के मौके पर बीएसएफ जवानों और पाकिस्तानी रेंजर्स ने एक-दूसरे को मिठाई नहीं बांटी।

रमजान के पाक महीने में जम्मू कश्मीर में शांति बहाल करने के मकसद से केंद्र सरकार ने आतंकियों के खिलाफ चलाए जाने वाले किसी भी तरह के सैन्य अभियान को आंशिक तौर पर रद्द करने का आदेश दिया था। लेकिन बावजूद इसके रमजान के दौरान पाकिस्तान ने करीब 12 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। वहीं घाटी में आतंकियों ने लगभग 42 बार सुरक्षाबलों को निशाना बना कर हमला किया। पाकिस्तान की गोलीबारी में अब तक करीब 30 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है।

संघर्ष विराम की अवधि बढ़ाए जाने को लेकर सेना, सुरक्षा बल और राजनीतिक नेतृत्व में मतभेद है। इस वजह से फिलहाल इसपर कोई फैसला नहीं हो पाया है। जानकारी के मुताबिक कश्मीर में रमजान के दौरान पत्थरबाजी की घटनाओं में भारी गिरावट देखने को मिली है। शांति की इस पहल को केंद्र सरकार आगे भी मौका देना चाहती है।

ब्यूरो श्री समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *