प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण का निधन

Raebareli Uttar Pradesh दुखद

● भाजपा विधायक रामनरेश रावत ने व्यक्त की शोक संवेदना

● पासी सेना ने दी नम आंखों से भावभीनी श्रद्धांजलि

अंगद राही

रायबरेली। सूबे की योगी सरकार में प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमलरानी वरुण के निधन से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई है। विदित हो कि कमलरानी वरुण कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण से ग्रसित थी जिन्हे राजधानी लखनऊ के संजय गांधी पीजीआइ हॉस्पिटल में भर्ती किया गया। सीएमएस डॉ.अमित अग्रवाल ने बताया प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमलरानी वरुण को सीवियर कोविड-19 निमोनिया हो गया था। इस वजह से वह एक्यूट रेस्पिरेट्री डिस्ट्रेस सिंड्रोम में चली गई थी। डॉक्टरों ने उन्हें बचाने का भरसक प्रयास किया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। कोरोना के लिए निर्धारित रेमडेसिविर समेत अन्य  निर्धारित दवाएं उन्हें लगातार दी जा रही थी, लेकिन सुधार नही हो रहा था। कमल रानी वरुण के निधन की खबर से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई है। भाजपा के बछरावां विधायक रामनरेश रावत, महाबली वीरा पासी शौर्य महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुज कुमार रावत, देवतादीन पासी,साहबदीन पासी, ओम प्रकाश रावत,नीरज कुमार रावत, पासी सेना के प्रदेश महासचिव अरुण कुमार रावत, मंडल सचिव राजेश पासवान, जिला उपाध्यक्ष दिनेश रावत सहित पासी सेना के पदाधिकारियों ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त करते हुए नम आंखों से भावभीनी श्रद्धांजलि दी एवं उनके द्वारा किए गए ऐतिहासिक कार्यों को याद करते हुए कहा कि कमल रानी वरुण पासी समाज की सच्ची मार्गदर्शक थी। जिन्होंने जमीनी स्तर पर कार्य करते हुए हमेशा दबे कुचले एवं गरीबों और वंचितों के हक की लड़ाई लड़ी। जिनकी कमी हमेशा खलती रहेगी। कमल रानी वरुण के निधन से पासी समाज की अपूर्णनीय क्षति हुई है। जिसकी कभी पूर्ति नही की जा सकती।

Total Page Visits: 175 - Today Page Visits: 8

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *