लालगंज और एस ओ जी पुलिस की मुठभेड़ में एक पुलिस कर्मी घायल एक बदमाश के पैर में लगी गोली लूट कांड का खुलासा

Uncategorized

सन्दीप मिश्रा

उत्तर प्रदेश । रायबरेली जिले की लालगंज और एसओजी पुलिस टीम ने 28 जुलाई को सर्राफा व्यवसाई के साथ हुई लूट की घटना का खुलासा एक साहसिक मुठभेड़ के बाद कर दिखाया है। इस मुठभेड़ में पुलिस का सिपाही भी घायल हुआ है। पुलिस ने गिरफ्तार लोगो के पास से भारी मात्रा में तमंचा कारतूस भी बरामद किया है। परंतु यह तमंचा कारतूस उन अपराधियों के पास कहां से आया यह भी जांच का विषय बना हुआ है। लालगंज थाना क्षेत्र के आशीष बाजपेयी पुत्र कृष्णलाल बाजपेयी निवासी पान दरीबा ने 28 जुलाई 2020 को थाने में लिखित सूचना देकर बताया कि वह सर्राफा व्यापारी है तथा उसकी दुकान भैरवनाथ मंदिर सर्राफा मंडी लालगंज में है। 28 जुलाई 2020 को करीब 11:30 बजे दोपहर में वह अपने मोटरसाइकिल से घर लौट रहा था तभी जगतपुर रामगढ़ी के पास वन विभाग के जंगल के निकट पहले से ही मौजूद तीन लोगों ने उसके ऊपर अचानक डंडे से हमला कर दिया तथा सोने चांदी के जेवरातो से भरा बैग छीन कर भाग गए । बदमाशों द्वारा इस घटना पर स्थानीय थाने में मुकदमा अपराध संख्या 376 /2020 धारा 394 आईपीसी के तहत लूट का मामला पंजीकृत किया गया । इस मामले के खुलासे के लिए रायबरेली पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में तथा अपर पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में अपराधियों के विरुद्ध चल रही कारवाही के अंतर्गत कल 31 जुलाई 2020 को लालगंज थाना पुलिस और एसओजी टीम को मुखबिर से सूचना मिली की इस मामले के लोगो द्वारा मगही मोड़ के पास माल का बंटवारा किया जा रहा है। इस सूचना पर जब पुलिस मौके पर पहुंची ताज की रोशनी में देखा तो वहां पर कुछ लोगों की आवाजें आ रही थी। पुलिस द्वारा ललकार ने पर यह सुनाई दिया कि भागो पुलिस है और इसके बाद से ही बदमाश पुलिस बल को जान से मारने की नियत से अंधाधुंध फायरिंग पुलिस टीम पर करने लगे । जिसमें एक पुलिसकर्मी सुरेश वर्मा घायल हुआ तथा जवाबी पुलिस कार्यवाही में एक व्यक्ति को गोली लगी। पुलिस ने जब घेराबंदी कर जब घायल के पास पहुंची तो देखा कि एक युवक के पैर गोली लगी है । जिसने अपना नाम रत्नेश उर्फ सोनू बताया। पुलिस ने मौके से एक अन्य अभियुक्त छोटू पुत्र शशिकांत को भी गिरफ्तार किया। इन लोगों ने पूछताछ में बताया कि जो लोग फरार हो गए हैं उनका नाम नवनीत यादव ,लवकुश यादव व विमलेश यादव है । इस सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी करके मगही मोड़ के पास तीनों लोगों को गिरफ्तार कर लिया । जबकि घायल रत्नेश को इलाज हेतु अस्पताल भेजा गया। इस तरह पुलिस ने रत्नेश कुमार यादव उर्फ सोनू पुत्र राम बोध निवासी मेहरबान मजरे बेहटा खुर्द थाना भदोखर, छोटू उर्फ श्रीकांत पुत्र राम बहादुर निवासी बहेरिया का पुरवा निकट आईटीआई रतापुर थाना मिल एरिया ,नवनीत यादव उर्फ छोटू पुत्र हरिपाल निवासी सरदार सिंह का पुरवा मजरे जगतपुर रामगढ़ी थाना लालगंज, लवकुश यादव पुत्र महेश यादव निवासी जहानपुर कोडर थाना भदोखर, विमलेश यादव पुत्र राजू यादव निवासी सरदार सिंह का पुरवा मजरे जगतपुर रामगढ़ी थाना लालगंज को सराफा व्यवसाई के साथ हुए लुट कांड में गिरफ्तार किया। पुलिस ने गिरफ्तार लोगों के पास से सोने चांदी के जेवरात सहित दो तमंचा 315 बोर एक कारतूस 315 जिंदा एक मिस का टूर 315 बोर दो खोखा 42 315 बोर तथा दो मोटरसाइकिल के साथ-साथ वादी का अन्य सामान भी बरामद किया है पुलिस ने आरोपियों द्वारा पुलिस टीम पर हमला करने के संबंध में मुकदमा अपराध संख्या 384 बटे 2020 के तहत अंतर्गत धारा 307 वाह मुकदमा अपराध संख्या 385 386 2020 के अंतर्गत धारा तीन बटे 25 अधिनियम के तहत मामला पंजीकृत कर आरोपियों को जेल भेज दिया गिरफ्तार आरोपियों ने सराफा व्यवसाई के साथ हुई लूट की घटना को भी कबूल किया है वही इस साहसिक मुठभेड़ और बदमाशों की गिरफ्तारी में लालगंज प्रभारी निरीक्षक हरिशंकर प्रजापति प्रभावी एसओजी उपनिरीक्षक अमरेश त्रिपाठी उपनिरीक्षक लालगंज महेश कुमार उपनिरीक्षक लालगंज जयप्रकाश यादव उप निरीक्षक लालगंज कामता प्रसाद एसओजी सिपाही संतोष सिंह एसओजी सिपाही रामाधार पटेल एसओजी चालक सिपाही अरुण सिंह एसओजी सिपाही दुर्गेश सिंह एसओजी सिपाही कौशल किशोर एसओजी सिपाही त्रिवेणी सिंह एसओजी सिपाही अमित सिंह सिपाही पंकज यादव अजित सिपाही राजीव कुमार शुक्ला एसओजी सिपाही सौरभ पटेल एसओजी सिपाही अजित सिंह लालगंज थाना सिपाही राम दर्शन योगेंद्र लांबा महेश सिंह महा सुंदर रजत कुमार ने अपने साहस का परिचय दिया।

Total Page Visits: 39 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *