ये क्या ! आशा ने योजना का लाभ दिलाने के नाम पर पीडिता से जबरन ले लिए 30 हजार रुपए

Raebareli Uttar Pradesh

मुस्तकीम अहमद

नसीराबाद(रायबरेली)नसीराबाद थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पूरे पहलवान का पुरवा मजरे रायपुर टोडी की रहने वाली राबिया पत्नी रहीश ने एक व्यक्ति पर आरोप लगाते हुए थाना परिसर में पहुंचकर थाना प्रभारी को शिकायत पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई है। राबिया ने आरोप लगाया है कि उसके गांव के पास गांव का पड़ोसी जमुना प्रसाद वर्मा पुत्र अज्ञात ग्राम गोपालपुर मजरे रायपुर टोडी ने उसके घर में घुसकर उससे 30 हजार रुपये जबरन छीन लिया। मना करने पर भद्दी भद्दी गालियां देते हुए जान से मारने की धमकी दी है। यह तक कहा है कि अगर किसी से पैसे रुपए के विषय में कुछ बताया तो जान से हाथ धोना पड़ेगा। इस पूरे प्रकरण में आरोपी की पत्नी व बेटा भी शामिल था। असलियत में पूरा मामला यह है कि राज्य व केंद्र सरकार द्वारा चलाई गई मुहिम बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ शिवमंगल योजना के तहत सरकार दूसरी बेटी होने पर 40 हजार रुपया से अधिक सरकार खाते में देती है राबिया ने बताया कि जमुना प्रसाद  की पत्नी गांव की आशा है। इन्होंने ही उसके कागजात पूरे तैयार करवा कर ऑनलाइन फार्म भरवाया था और मुझसे कहा था कि इसके एवज में 10 हजार रुपए पीडिता रविया को देने होंगे। राबिया की मानें तो राबिया ने भी रुपया देने पर राजी थी पर राबिया ने बताया कि जैसे ही उसके खाते में 40 हजार रुपए आए वैसे ही पड़ोसी जमुना प्रसाद वर्मा की नियत बिगड़ गई और उन्होंने उससे जबरन 30 हजार रूपए की मांग की। यहां तक कि बहाने से पीड़िता की पासबुक भी अपने कब्जे में कर रख लिया। राबिया ने यह भी कहा है कि वह भारतीय स्टेट बैंक मऊ में पैसे के विषय में पता करने गई तो उसके खाते में 40 हजार रूपए की पहली किस्त आई थी। राबिया ने बताया कि जब वह अपनी पासबुक मांगने लगी तब जमुना ने अपनी पत्नी को उसके साथ पैसा निकलवाने बैंक भेजा राबिया ने कहा कि पूरा मामला उसने बैंक में स्थित मैनेजर को बताया तो मैनेजर ने कहा कि सारा पैसा आपका है आप निकलवा कर ले जाइए। जिसके बाद राबिया दो किस्तों में रुपए निकलवा कर  घर के बक्से में रख दिए थे। शिकायती पत्र में राबिया ने आरोप लगाया है कि दिनांक 12:12 2019 को सुबह करीब 7 बजे जमुना प्रसाद और उनकी पत्नी सुनीता देवी और जमुना का बेटा दीपक तीनों मिलकर राबिया के घर में घुसकर 40 हजार रुपए बक्से में रखे थे बक्से का ताला  तोडकर रुपया 30 हजार रुपये निकाल लिए। राबिया द्वारा मना करने पर तीनों लोगों ने मारपीट व गाली-गलौज की जिसके बाद राबिया ने वर्तमान ग्राम प्रधान प्रतिनिधि ताज मोहम्मद के पास पहुंचकर मदद की गुहार लगाई प्रधान ने कोई मदद ना करते हुए इतना जरूर कहा कि थाने में जाकर शिकायत कर दो राबिया ने किसी की मदद ना पाकर निराश हो गई तब जाकर उसने नसीराबाद थाना परिसर में पहुंचकर थाना अध्यक्ष के सामने शिकायत पत्र देते हुए न्याय की गुहार लगाई। थाना परिसर में ही राबिया बिलख बिलख कर रोने लगी और अपनी आपबीती बताने लगी राबिया ने कहा कि मेरे दो छोटे-छोटे बच्चे हैं उसके पति का मानसिक संतुलन ठीक नहीं रहता वह बहुत ही गरीब और लाचार है। रुपए छीन लेने के मामले में गोद में लिए नन्ही सी गुड़िया के सिर पर राबिया ने हाथ रखकर कसम खाई कि अगर उसके द्वारा लगाया जा रहा आरोप झूठा हो तो उसकी बिटिया इस दुनिया में जीवित न रहे। राबिया के मुख से निकला हुआ यह शब्द सुनकर थाना परिसर में मौजूद सभी सन्न रह गये। इस संबंध में थाना प्रभारी धीरेंद्र कुमार यादव का कहना है  पीड़िता द्वारा लिखित शिकायत मिली थी। जांच पड़ताल करवाई गई पीड़िता को 18000 रुपए वापस दिलवाया गया है। जो भी पैसा रुपया बाकी है वह भी दिलवाया जाएगा और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी ।

Total Page Visits: 275 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *