न्यू पब्लिक एकाडमी इण्टर कालेज भवानीगढ़ ने माफ की 4 महीने की फीस

Raebareli Uttar Pradesh मिसाल

■ प्रदेश का इकलौता ऐसा शिक्षण संस्थान जिसने माफ कर दी 4 महीने पूरी फीस

अंगद राही

रायबरेली। वर्षों से शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी शिवगढ़ क्षेत्र के न्यू पब्लिक एकाडमी इण्टर कॉलेज भवानीगढ़ की प्रबन्ध समिति ने शिक्षण शुल्क के मामले में ऐतिहासिक निर्णय लेकर मानवता की सच्ची मिसाल पेश करते हुए समूचे यूपी में इतिहास रच दिया है। विदित हो कि वैश्विक महामारी बनकर समूचे विश्व में कहर ढा रहे कोरोना वायरस कोविड-19 के चलते विद्यालय बंद है, अधिकांश विद्यालय में ऑनलाइन पढ़ाई चल रही है। कोविड-19 के चलते देश में आर्थिक संकट की समस्या उत्पन्न हो गई है। इसके बावजूद जहां कई ऐसे शिक्षण संस्थान है जो अभिभावकों से फीस एठने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रहे हैं। वहीं न्यू पब्लिक एकाडमी इण्टर कॉलेज भवानीगढ़ के संस्थापक सतीश बाजपेई, प्रबंधक विवेक बाजपेई एवं प्रबंध समिति ने कोरोना महामारी को दृष्टिगत रखते हुए अभिभावकों को बड़ी राहत देने का निर्णय लिया है। गौरतलब हो कि शासन के निर्देश एवं अभिभावकों की अपील पर कोरोना महामारी को देखते हुए जहां प्रदेश के साथ ही रायबरेली जनपद के कई विद्यालयों ने 3 महीने की फीस माफ की है। वहीं रायबरेली ही नही समूचे यूपी में शिवगढ़ क्षेत्र का न्यू पब्लिक एकाडमी इण्टर कॉलेज भवानीगढ़ इकलौता ऐसा शिक्षण संस्थान है जिसने नर्सरी से लेकर कक्षा 8 तक के समस्त छात्र-छात्राओं की 4 महीने की पूरी फीस माफ कर दी है। विद्यालय के प्रबंधक विवेक बाजपेई, प्राइमरी विंग प्रधानाचार्य अंकित तिवारी ने अभिभावकों को फीस माफी पत्र भेजकर अवगत कराते हुए कहा कि 20 जुलाई तक विद्यालय में प्रवेश लेने समस्त छात्र-छात्राओं को फीस माफी का लाभ मिलेगा। विद्यालय के प्रबंधक विवेक बाजपेई का कहना है कि महामारी को लेकर पूरा देश आर्थिक संकट से जूझ रहा है हालात बद से बदतर हो गए हैं किंतु हमेशा एक जैसे हालात नही रहेंगे निश्चित तौर पर हालात सुधरेंगे और एक दिन अच्छा समय आएगा। श्री बाजपेई ने बताया कि विद्यालय के संस्थापक सतीश बाजपेई तथा प्रबंध समिति के निर्देश पर विद्यालय में अध्ययनरत अथवा जो प्रवेश लेना चाहते हैं उन सभी छात्रों का 4 महीने का शिक्षण शुल्क और वाहन शुल्क माफ करने का निर्णय लिया गया है। विद्यालय में जब से बच्चे आएंगे तभी से वाहन शुल्क लिया जाएगा। श्री वाजपेई ने छात्र-छात्राओं एवं अभिभावकों को कोरोना महामारी के प्रति सचेत करते हुए कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड-19 से समूचा विश्व परेशान है। कोरोना के इस संकटकाल में सभी लोग भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार के दिशा निर्देशों का पूरी जिम्मेदारी के साथ पालन करें। जरूरी काम पड़ने पर ही घर से बाहर निकले। अगर किसी जरूरी काम से घर से बाहर निकले तो सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन करें। हमेशा मुंह पर मास्क लगाकर रखें अथवा गमछे एवं दुपट्टे से मुंह और नाक को ढक कर रखें। अपने हाथों को दिन में बार – बार अच्छी तरह साबुन से धुलें अथवा हाथों को हैंड सैनिटाइजर से सैनिटाइज करें।

Total Page Visits: 189 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *