पूर्व प्रधान के छोटे भाई का पेड़ से लटकता मिला शव,मचा कोहराम

Raebareli Uttar Pradesh दुखद

⚫ परिजनों का रो रोकर बुरा हाल

⚫ रात 11 बजे खेत में रखें इंजन को देखने निकला था कृषक सुबह पेड़ से लटकता मिला शव

⚫ परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

अंगद राही / विपिन पाण्डेय

रायबरेली। शिवगढ़ थाना क्षेत्र के सेहरिया में मजरे गोविंदपुर में पूर्व प्रधान के छोटे भाई का शव संदिग्ध परिस्थितियों में असहन जगतपुर ड्रेन पर बबूल के पेड़ में लटकता मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। मृतक के परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है। विदित हो कि थाना क्षेत्र के सेहरिया मजरे गोविंदपुर में पूर्व प्रधान कमलेश कुमार रावत के छोटे भाई मंसाराम रावत 40 का शव घर से 500 मीटर की दूरी पर असहन जगतपुर ड्रेन पर बबूल के पेड़ में अंगोछा से लटकता मिला।

सुबह ग्रामीणों ने देखा तो पूरे गांव में हडकम्प मच गया। जिसकी खबर कुछ ही पलों में पूरे क्षेत्र में जंगल की आग की तरह फैल गई। घटनास्थल पर लोगों का मजमा लग गया। शव को देखने पहुंचे लोग तरह-तरह की चर्चाएं कर रहे हैं कोई कहता है मार के लटकाया गया है तो कोई कहता है कि पैर जमीन से छुए हैं हत्या की गई है। वहीं कुछ लोग कह रहे हैं कि यदि मंसाराम को फांसी ही लगानी होती तो खेत में रखे इंजन से काफी दूर क्यों फांसी लगाता।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने परिजनों की मांग पर फॉरेंसिक टीम बुलवाकर जांच करवाई इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक की पत्नी रामावती बड़े बेटे आलोक ने बताया कि बृहस्पतिवार की रात 11 बजे खाना खाकर खेत पर रखें इंजन को देखने आए थे। रात में घर वापस नही गए तो सुबह इधर-उधर पता लगाना शुरू किया तो उनका शव नाले की पटरी पर पेड़ से लटकता मिला।

मंसाराम की मौत से उसकी पत्नी रामावती के ऊपर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है। मृतक के पुत्र आलोक कुमार (15) अंकुल कुमार (13) अतिम कुमार (11) बेटी आरती (6) का रो- रोकर बुरा हाल है। क्षेत्राधिकारी राघवेंद्र चतुर्वेदी का कहना है कि फॉरेंसिक टीम ने जांच कर ली है शव को पीएम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा कि मंसाराम की मौत कैसे हुई।

Total Page Visits: 601 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *