मिशन प्रेरणा एक उद्देश्य है : प्रवक्ता मनोज यादव

Raebareli Uttar Pradesh प्रशिक्षण

2 दिवसीय मिशन प्रेरणा उन्मुखी कार्यशाला सम्पन्न

अंगद राही

रायबरेली। शिवगढ़ बीआरसी सभागार में खण्ड शिक्षा अधिकारी वीरेंद्र कुमार कनौजिया के मार्गदर्शन में चल रही दो दिवसीय मिशन प्रेरणा उन्मुखी कार्यशाला सम्पन्न हुई। प्रशिक्षण दे रहे डायट प्रवक्ता मनोज कुमार यादव, एकाडमिक रिसोर्स पर्सन अजय सिंह पटेल ने प्रधानाचार्यों, इंचार्ज प्रधानाचार्यों, सहायक अध्यापकों, शिक्षामित्रों एवं अनुदेशकों को प्रशिक्षण देते हुए कहा कि मिशन प्रेरणा के लक्ष्य को सभी को प्राप्त करना है। इसलिए सभी शिक्षक अपने लक्ष्यों को अच्छी तरह से समझ ले,आत्मसात कर ले तभी इस कार्यशाला की सार्थकता एवं उपयोगिता सिद्ध होगी।

विदित हो कि यह प्रशिक्षण पहली बार मई में दिया गया था। वहीं दूसरी बार 13 जून से प्रशिक्षण दिया जा रहा था। कोरोना वायरस कोविड-19 के चलते एक बैच में सिर्फ 35 लोगों को प्रशिक्षण दिया जा रहा था ताकि सभी शिक्षकों में सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे। डायट प्रवक्ता मनोज कुमार यादव ने सभी को प्रशिक्षित करते हुए कहा कि मिशन प्रेरणा एक उद्देश्य है जो बेसिक शिक्षा से संबंधित है। जिसके तहत आधार भूत सुविधाओं के साथ-साथ गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित की जा रही है। वहीं एकाडमिक रिसोर्स पर्सन अजय सिंह पटेल ने कहा कि मिशन प्रेरणा के कुछ लक्ष्य हैं। जिसमें भाषा और गणित के लक्ष्य निर्धारित किए गए हैं जो अलग-अलग हैं। भाषा में कक्षा एक के लिए जैसे बच्चा निर्धारित सूची के पांच शब्दों को पहचान रहा है। कक्षा 2 के लिए बच्चा दिए गए अनुच्छेद को 20 शब्द प्रति मिनट के प्रवाह से पढ़ पा रहा है। कक्षा 3 के लिए है बच्चा 30 शब्द प्रति मिनट के प्रवाह से पढ़ पा रहा है।

कक्षा 4 के लिए है बच्चा छोटे अनुच्छेदों को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के 75 प्रतिशत तक सही-सही उत्तर दे पा रहा है। कक्षा 5 के लिए है छात्र बड़े अनुच्छेदों को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के 75 प्रतिशत तक सही सही उत्तर दे पा रहा है। इसी प्रकार गणित के लिए भी लक्ष्य निर्धारित किए गए हैं जैसे कक्षा 1 का बच्चा निश्चित सूची के 5 संख्याओं को पहचान पा रहा है। कक्षा 2 के लिए है बच्चा एक अंकीय जोड़ घटाव को कर लेता है। कक्षा 3 के लिए है बच्चा हासिल और जोड़ घटाव वाले सवाल कर पा रहा है। कक्षा 4 के लिए बच्चा गुणा वाले सवाल कर पा रहा है, कक्षा 5 के लिए है बच्चा भाग वाले सवाल कर पा रहा है। इसमें इस बात का ध्यान रखना है कि छात्र 75 प्रतिशत सवाल सही ढंग से कर लेगा, तभी माना जाएगा बच्चा प्रेरणा लक्ष्य को सही ढंग से प्राप्त कर चुका है। इस मौके पर धर्मेंद्र सिंह, बृज किशोर वर्मा, गीता बिष्ट, राजीव वर्मा, निधि शुक्ला, निम्मी शुक्ला, श्रीराम, अवधेश कुमार, भूपेश पटेल आदि लोग मौजूद रहे।

Total Page Visits: 221 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *