सारीपुर रजबहा की सफाई के नाम पर खेल

Raebareli Uttar Pradesh लापरवाही

टी.पी.यादव

महराजगंज,रायबरेली। सारीपुर रजबहा की सफाई हर साल होती। लेकिन पूरे मचाल गांव के आगे बीते 15 वर्षों से नहर का पानी नहीं पहुँच रहा है। 2004 के आस पास से जगह जगह टूटी व पटी पड़ी नहर को अब तक दुरुस्त नहीं कराया गया। इसी वजह से दर्जनों गांवों के किसान वर्षों से नहर के पानी के लिए तरस रहे हैं।कलंदरगंज गांव से आगे के सड़कहा, अजीजगंज,सेनपुर, पूरे सहमत, पूरे जमादार,पूरे सिंघई जरेला समेत आधा दर्जन गांवों के किसानों ने तो अब माइनर के पानी की आस ही छोड़ दी है। सभी निजी ट्यूबवेल के सहारे किसी तरह खेती कर रहे हैं। कलंदर गंज के राजेश बताते हैं कि साल दर साल लागातार शिकायतों के बाद भी नहर में पानी नहीं आया है। वह बताते हैं कि नहर का पानी क्षेत्र के दर्जन भर गांव के किसानों के लिए सिंचाई का एकमात्र साधन था। पूरा पानी मिलता था तो फसल अच्छी होती थी। लगभग बीते 15 वर्षों से किसान पानी के लिए तरस रहा है। सड़कहा गांव के दिनेश का कहाना हैं कि सारीपुर रजबहा से निकली शाखा बावनबुजुर्ग बल्ला माइनर से पहले कभी समय था कि पानी से लबालब भरी रहती थी। लेकिन कई वर्षों से विभाग की लापरवाही के चलते इस छेत्र के किसान एक एक बूंद नहर में पानी को तरस रहे है।कमाल की बात तो यह है सिंचाई विभाग नहर की सफाई में लाखों रुपए हर वर्ष फूंकता है। लेकिन सफाई भी राम भरोसे ही होती है।जिसका खामियाजा इस छेत्र के लोग भुगतने को मजबूर है। ग्रामीण इस बात से नाराज हैं कि जब नहर में आगे पानी नहीं जाता तो सफाई क्यों कराई जाती है। ग्रामीण सिंचाई विभाग से खासा नाराज हैं। वह लगभग 15 वर्षों से जगह जगह टूटी व रेत से पटी पडी नहर सही नही करा पाने के लिए डीएम, एसडीएम से लेकर बीडीओ और सिंचाई विभाग के सभी क्षेत्रीय कर्मचारियों को दोषी मानते हैं।

Total Page Visits: 100 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *