गांव लौटे प्रवासी मजदूरों ने स्वेच्छा से स्वयं को प्राथमिक विद्यालय में किया क्वारंटाइन

Raebareli Uttar Pradesh कोरोना वायरस

टी.पी.यादव

महराजगंज,रायबरेली।महराजगंज क्षेत्र के क्षेत्र बहादुर नगर में अन्य प्रांतों से वापस लौटकर आए गांव के 12 युवकों ने स्वेच्छा से गांव के बाहर बने प्राथमिक विद्यालय व पंचायत घर में क्वारंटीन होकर‌ उदाहरण प्रस्तुत करते हुए मिसाल कायम की है‌‌, अलग-अलग सूबे व अलग-अलग शहरों से कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में वापस गांव लौटकर आये इन युवकों व इनके परिजनों ने मीडिया को बताया कि जैसे हम छः महीने सालभर बाहर रहे वैसे ही अब इक्कीस दिन और बाहर रह लेंगे, जिससे घर, परिवार व हमारे क्षेत्र के लोग सुरक्षित रहे‌ं। बताते चलें कि जीवकोपार्जन हेतु रोजगार की तलाश में क्षेत्र से बाहर गए हुए अधिकतर श्रमिक कोरोना जैसी महामारी में वापस लौट रहे हैं। कोतवाली क्षेत्र के बहादुर नगर में मुंबई से आए जगजीवन सिंह,अमित कुमार, बृजेश कुमार, भोला, कल्लू व कुलदीप तथा जीन से आए दयाराम, बिजय कुमार, किशोर व दिल्ली से आए अमरेंद्र कुमार आदि ने गांव पहुंचने से पूर्व ही प्रधान प्रतिनिधि संतोष सिंह से दूरभाष से वार्ता कर गांव के बाहर रहने की इच्छा जाहिर की। प्रधान प्रतिनिधि ने प्रवासी युवकों के परिजनों से वार्ता कर गांव के बाहर बने पंचायत घर व प्राथमिक विद्यालय में रुकने की व्यवस्था की‌‌ ,गौरतलब है कि सरकार द्वारा प्रवासी श्रमिकों को होम क्वॉरंटीन करने के निर्देश दिए गए हैं ।इस बावत प्रवासी युवकों व उनके परिजनों ने मीडिया को बताया कि परिवार का एक सदस्य इन युवकों के अलग रखें हुए बर्तनों में भोजन व चाय नाश्ता समय समय पर दे आता है‌ इन युवकों ने बताया कि घर परिवार व गांव वालों की सुरक्षा की दृष्टि से इक्कीस दिन खुद को परदेश में मानते हुए घर से बाहर रह लेंगे। ‌

Total Page Visits: 50 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *